Recycle BusinessProfitable Waste Recycling Business Ideas | भारत के लाभदायक रीसायकल बिजनेस

Profitable Waste Recycling Business Ideas | भारत के लाभदायक रीसायकल बिजनेस

लाभदायक रीसायकल बिजनेस (Profitable Recycling Business): आज ग्लोबल वार्मिंग दुनिया की सबसे बड़ी चिंता/आपदा बनती जा रही है. जीवन को अनुकूल बनाने हेतु पर्यावरण की सुरक्षा करना और हमारे द्वारा उत्पन्न किये गए अपशिष्ट/कचरे को रीसायकल कर पुन: उपयोग लायक बनना जरूरी घटकों में से एक बन चुका है.

व्यवसायिक दृष्टी से अगर बात की जाए तो पुनर्चक्रण/रीसायकल व्यवसाय आने वाले समय में सबसे अधिक लाभदायक उद्यम (waste to wealth) बनने वाले हैं क्योंकि आप जानते ही हैं कि पृथ्वी के संसाधन सीमित हैं और धीरे-धीरे समाप्ति की ओर बढ़ रहे हैं.

ऐसे में यह जरूरी है कि हमें पर्यावरण की सुरक्षा के साथ-साथ उपयोग लायक चीजों को पुनर्चक्रीकरण (recycling) करना जरूरी है. देखा जाए तो पुनर्चक्रीकरण/रीसाइक्लिंग व्यवसाय में कई संभावनाएं उभरती ही जा रही हैं.

Profitable-Recycling-Business-Ideas-लाभदायक-रीसायकल-बिजनेस

और आज इस पोस्ट के मध्यम से हम कुछ profitable recycling business ideas की जानकारी साझा करने जा रहे हैं, जिन्हें कम लागत के साथ आसानी शुरू किया जा सकता है और अच्छा मुनाफा भी बनाया जा सकता है.

पर इससे पहले हम जानकारी share करें आपको recycling business ideas से सम्बंधित कुछ खास पहलुओं पर विचार करने अथवा कुछ बातों को ध्यान से समझने की आवश्यकता है. मसलन-

  1. आप अपनी रूचि के मुताबिक ही recycle business idea का चयन करें, कि आप किस प्रकार के कचरे को रीसायकल करना चाहते हैं, जैसे- घरेलू कचरा (house waste), निर्माण अपशिष्ट (Construction waste), इलेक्ट्रॉनिक कचरा (e-waste), धातु अपशिष्ट (Metal waste) आदि.
  2. Recycling business idea के चयन के बाद, रीसाइकिलिंग प्रक्रिया (recycling process) की विस्तृत जानकारी हांसिल करना, उसके बाद सम्बंधित मशीनरी आदि की खरीद-फरोख्त करना.
  3. निर्मित किये जाने वाले रीसायकल उत्पाद (reusable product) की बाजार रिसर्च जैसे- डिमांड, खपत व उसकी मार्केटिंग के लिए unique business plan तैयार करना. इन सभी महत्वपूर्ण चरणों पर गहनता से विचार करने के बाद आप अपने recycling business ideas अपना सकते हैं.

रीसाइक्लिंग के क्षेत्र में आज कई अवसर हैं. जिनकी डिमांड लगातार बढ़ रही है, यदि आप अपना business startup करने की सोच रहे हैं तो waste recycling business आपके लिए एक profitable business idea साबित हो सकता है.

Paper waste, e-waste, metal waste, battery waste, plastic waste, tyre waste के अलावा कई अन्य जैसे- बायोडिग्रेडेबल और नॉन-बायोडिग्रेडेबल वेस्ट, जिनमें recycling business अच्छे से फल-फूल रहे है और तो और waste recycling business में कभी भी मंदी का सामना नहीं करना पड़ता.

इसके साथ ही पुनर्चक्रीकरण पहल (Recycling initiative) कचरे से कमाई (waste to wealth) जैसे सकारात्मक विचार को बल देता है. इसी के साथ आइये शुरू करते हैं चर्चा उन profitable recycling business ideas की, जिनमें संभावनाओं के साथ मुनाफा कमाने की कोई सीमा नहीं है-

Table of Content

Plastic Waste Recycling Business-

प्लास्टिक वेस्ट एक गैर-बायोडिग्रेडेबल घटक/उत्पाद है यानी कि प्लास्टिक को साधारण रूप से न तो नष्ट किया जा सकता है और न ही इसे कचरे में ऐसे ही फेका जा सकता है. इसके अलावा प्लास्टिक वेस्ट ग्लोबल वार्मिंग के सबसे खतरनाक कारणों में से भी एक है, ऐसे में प्लास्टिक अपशिष्ट का उचित प्रबंधन किया जाना ही एक मात्र विकल्प है.

दुनिया में हर साल लगभग 300 मिलियन टन प्लास्टिक उत्पाद की खपत होती है, जिसमें से हमारे देश भारत में लगभग 25,940 टन प्लास्टिक की खपत होती है. क्या आप जानते हैं कि एक औसत व्यक्ति हर साल लगभग 11 किलोग्राम प्लास्टिक का उपयोग कर वेस्ट में परिवर्तित कर देता है. ऐसे में plastic waste की recycling process करना एक नए startup की सम्भावना को पैदा करता है.

प्लास्टिक से बने उत्पाद जैसे-पॉलिथीन, प्लास्टिक की बोतलें, डिब्बे, बाल्टी और कई अन्य वस्तुओं को बड़ी ही सरलता से रीसायकल किया जा सकता है. दुनिया सहित भारत में कई startup शुरू हुए हैं, जिन्होंने waste to wealth के तहत plastic waste recycling जैसे business idea में निवेश किया है और मुनाफा भी बना रहे हैं.

प्लास्टिक को रीसायकल करने के लिए किन मशीनों की आवश्यकता होती है?

सामान्य तौर पर प्लास्टिक वेस्ट को रीसायकल करने के लिए-

1. Shredding/Crusher machine
2. Cleaning/washing machine
3. Melting
4. Pellet making

Textile Waste Recycling Business

लगातार बदलते फैशन के कारण हर साल अरबों की संख्या में नए कपड़ों का निर्माण किया जाता है. इसके अलावा जिस दर से कपड़ों का निर्माण हो रहा है, उससे दोगुनी रफ़्तार से कपड़ों की खपत भी हो रही है. ऐसे में पुराने कपड़े का भंडार आने वाले भविष्य में वेस्ट के रूप में एक कठिन समस्या होने वाली है.

दुर्भाग्य से मनुष्यों द्वारा उत्पन्न किया जाने वाला वेस्ट प्रकृति और अनुकूल पर्यावरण के लिए एक कठिन समस्या को जन्म दे रहा है. जिसका उचित प्रबन्धन अथवा समय से निपटान किया जरूरी है. ऐसे में पुराने कपड़ों से होने वाले प्रदूषण को रोकने के लिए टेक्सटाइल वेस्ट रीसाइक्लिंग बिजनेस के क्षेत्र में आने और अपना startup करने का एक शानदार नया अवसर साबित हो सकता है.

कपड़ा पुनर्चक्रण व्यवसाय (Textile Waste Recycling Business) सीमित लागत में शुरू किया जाने वाला लाभदायक कारोबार है, यदि आप ऐसे innovative unique business idea की तलास में हैं तो Textile Waste Recycling Business आपके भविष्य को मुनाफा कमाने वाली राह दिखा सकता है.

Textile Waste Recycling से क्या-क्या बनाया जा सकता है?

पुराने कपड़ो को रीसायकल कर कई तरह के बाजार मांग के आधार पर दैनिक उपयोग वाले उत्पादों का निर्माण किया जाता है.

1. दरी, गलीचे, कालीन का निर्माण
2. पंचिंग बैग का निर्माण
3. पाँवदान व पोछे
4. डोरी, wall hanging व थैले
5. सीमेंट की मदद से गमले आदि व अन्य

Tyre Waste Recycling Business

दुनिया भर में लगभग हर साल 01 बिलियन टायरों को वेस्ट के रूप में ऐसे ही फेंक दिया जाता है, जो भूमि की उर्वरा शक्ति को कम करने, ऊसर भूमि को बढ़ाने व पर्यावरण के लिए खतरा बनने का काम करते हैं. मूल रूप टायर-रबर, स्टील और सिंथेटिक फाइबर/नायलॉन व कार्बन के मिश्रण से बना होता है जो एक गैर-बायोडिग्रेडेबल घटक/उत्पाद है.

टायरों को जलाने से भारी मात्रा में वायु प्रदूषण (कार्बन मोनो जैसी गैसों द्वारा) होता है. ऐसे में टायरों को जलाने की अपेक्षा इनका पुनर्चक्रण (recycling) किया जाना सबसे उत्तम विकल्प है. साथ ही रीसायकल किये गए टायरों से नए उत्पाद का निर्माण भी आसानी से किया जा सकता है. साधारण तौर पर Tyre Waste Recycling business को rubber waste recycling business के नाम से भी जाना जाता है.

भारत में Tyre Waste Recycling business लगभग 12% प्रति वर्ष की दर से बढ़ रहा है. चीन के बाद भारत rubber waste recycling का दूसरा सबसे बड़ा उत्पादक बन रहा है. हर साल भारत में सड़क निर्माण में लगभग 05 लाख टन क्रम्ब रबर मॉडिफाइड बिटुमेन (CRMB) का इस्तेमाल किया जा रहा है. जो tyre waste recycling में कई संभावनाएं पैदा कर रहा है.

यदि आप innovative startup business ideas की खोज में हैं साथ ही कचरे से कमाई (waste to wealth) करने की सोच रखते हैं तो Tyre Waste Recycling business आपके भविष्य के लिए एक तगड़े मुनाफे का विकल्प साबित हो सकता है.

Tyre Waste Recycling business शुरू करने के लिए कौन-कौन सी मशीनरी की आवश्यकता होती है?

Tyre Waste Recycling business शुरू करने के लिए-

1. Tyre Bead Wire Remover Machine-Circle Cutter
2. Rims Separator (Steel Wire Remover)
3. Strip Cutter
4. Rubber Shredders/Crusher/Slice Cutter
5. Waste Tyre Oil Recycling Machine

Tyre Waste Recycling से कितने उत्पाद बनाए जाते हैं?

Rubber Granules, Steel Wire, Carbon Black Powder, Pyrolysis Fuel Oil, Shoe/Sleeper Sole Making, Runway Rubber Track, Road Construction, Rubber Based Commercial Bricks

Paper Waste Recycling Business

कागज के विभिन्न गुणों के कारण आज इसे कई तरीके से उपयोग किया जा रहा है. मसलन- पठन-पाठन, लेखन के अलावा भी आज कागज को पैकिंग, पैकेजिंगcrafting जैसे प्रोजेक्ट में भी बड़ी मात्रा में उपयोग किया जाता है.

एक निश्चित समय के बाद पेपर से बने उत्पाद स्वत: ख़राब होने लगते हैं, ऐसे में भरी मात्रा में पेपर वेस्ट जिसे साधारण भाषा में रद्दी के तौर पर जाना जाता है, उत्पन्न होना भी स्वाभाविक है. ऐसे में Paper Waste के Recycling Business कई संभावनाएं स्वत: ही पनपती है. व्यवसायिक दृष्टी से आंकलन करने पर Paper Waste Recycling Business कभी न रुकने वाला एक profitable business idea है.

जिसकी शुरुआत सीमित संसाधन के साथ बहुत ही सरलता से की जा सकती है. इसके अलावा जब से single use plastic को बैन किया गया है, तब से कागज़ आधारित उत्पादों की मांग काफी बढ़ चुकी है और लगातार बढ़ती भी जा रही है.

Paper waste recycling business, कारोबार का एक विस्तृत क्षेत्र है, जिसे कागज की विवधता के अनुसार कई स्तरों पर शुरू किया जा सकता है. मसलन-

  1. Packaging Corrugated box recycling business (पैकेजिंग नालीदार डिब्बों/बक्सों का पुनर्चक्रीकरण व्यवसाय)
  2. Scrap paper recycling business (रद्दी पुनर्चक्रीकरण व्यवसाय)

Paper Waste को Recycle कर कौन-कौन से product बनाए जाते है?

Paper Waste का पुनर्नवीनीकरण कर कई उत्पादों का निर्माण (paper recycling ideas) किया जा सकता है. जैसे-

1. Tissues paper
2. Toilet paper
3. Napkins & Paper towels
4. Egg cartons trey, greeting cards
5. Paper grocery bag, Paper envelops for daily use
6. Paper board (Game boards, Writing board)
7. Book covers और अन्य कई उत्पाद.

Recycling of Construction Waste

आप जानते ही हैं कि जब भी कोई निर्माण सम्बन्धी काम होता है, तो निर्माण सम्बन्धी अपशिष्ट/वेस्ट का उत्पन्न होना स्वाभाविक है. यदि समय से उत्पन्न कचरे का निपटान (waste management) न किया जाए तो निर्माण की सुन्दरता बिगड़ने के साथ निर्माण पर किया खर्च आदि सब कुछ व्यर्थ हो जाता है. साथ ही Construction Waste पर्यावरण के लिए भी एक बड़ा खतरा है.

ऐसे में Construction waste recycling business का concept आ जाता है, जो कबाड़/कचरे से कमाई (waste to wealth) को भी समर्थन देता है. इसके साथ व्यवसायिक दृष्टी से आंकलन करने पर Construction waste recycling business तगड़े मुनाफे वाले business ideas में से भी एक है.

कंस्ट्रक्शन स्थलों पर कई प्रकार के उपयोगी अपशिष्ट और स्क्रैप निकलते हैं. जैसे- लकड़ी, ईंट, कंक्रीट/प्लास्टर, स्टील, धातुएं, तार व टाइल्स आदि.  इन्हें अलग-अलग एकत्र कर आवश्यकतानुसार अथवा डिमांड के अनुरूप  पुनर्नवीनीकरण कर मार्केट में बिक्री किया जा सकता है.

Construction waste recycling business में मुनाफा कैसे बनता है?

किसी भी Construction work से निकले waste को recycle कर उपयोगी वस्तुओं व उत्पादों का निर्माण कर मुनाफा बनाया जा सकता है. यदि आपमें रचनात्मक क्षमता है तो आप इस व्यवसाय में तगड़ा मुनाफा आसानी से बना लेंगे.

E-Waste Recycling Business

हम हमारे दैनिक जीवन में कई तरह के इलेक्ट्रोनिक उत्पाद व गैजेट्स का उपयोग करते है. एक निश्चित अवधि के बाद हर एक इलेक्ट्रोनिक उत्पाद व गैजेट्स अनुपयोगी हो जाता है, इन अनुपयोगी इलेक्ट्रोनिक/इलेक्ट्रिकल उत्पाद व गैजेट्स को सामान्य तौर पर E-Waste कहा जाता है.

प्लास्टिक के बाद E-Waste ही वह दूसरा सबसे प्रमुख अपशिष्ट स्रोत/घटक है जो हमारे पर्यावरण के लिए एक बड़ा खतरा बनकर उभर चुका है. पर्यावरण की सुरक्षा व जीवन शैली को अनुकूल बनाने के लिए उत्पन्न किये गए E-Waste का निपटान अथवा recycle कर पुन: उपयोग लायक बनाना जरूरी है.

E-Waste Recycling Business असल में उन उद्यमियों को मौका देता है जो थोड़े-बहुत जोखिम के साथ अपना उद्यम/startup “ई-वेस्ट रीसायकल बिजनेस” शुरू करने के इच्छुक हैं. हमारा देश भारत! बड़े ई-वेस्ट उत्पादकों (E-Waste generators) में से एक है, जिस कारण यहां पर Waste management सहित E-Waste Recycling Business में अवसरों की कमी नहीं है.

Battery Waste Recycling 

बैटरी रीसाइक्लिंग व्यवसाय (battery waste recycling business) एक ऐसा innovative business idea है, जिसकी शुरूआत करने से जहां एक तरफ आप अपने उद्यम/व्यवसाय शुरू तो करते ही हैं जो पैसे कमाने का मौका देता है, वहीं दूसरी ओर यह एक ऐसा व्यवसाय/उद्यम भी है जो पर्यावरण को अनुकूल बनाने और दुनिया को रहने लायक बनाने में सहयोग भी प्रदान करता है.

बैटरियां आज उपयोग के लिहाज से भारी संख्या में प्रयोग में ली जा रही है. मसलन- जब से आईटी के क्षेत्र में क्रांति हुई है तब से बिजली से चलने वाले कई पोर्टेबल उपकरणों का संचालन बैटरियों के द्वारा ही किया जा रहा है. वाहनों (EV), घरेलू इलेक्ट्रॉनिक्स, सेलफोन और खिलौनों में बैटरियों का उपयोग बड़ी संख्या में किया जाता है.

हालांकि साधारण बैटरियों की शेल्फ लाइफ (आयु सीमा/उपयोग दर) सीमित होती है, जबकि रिचार्जेबल बैटरियों की शेल्फ लाइफ साधारण बैटरियों से थोड़ी अधिक होती हैं, एक निश्चित अवधी के बाद अनुपयोग बैटरियां मात्र कूड़े का ढेर ही रह जाती है. जिनका पुनर्चक्रीकरण किया जाना बहुत ही जरूरी है क्योंकि बैट्री में जहरीले तत्वों का समावेश होता है, जो पर्यावरण को प्रदूषित करने में होते है.

भविष्य में battery waste recycling का business बहुत ही तीव्र गति से बढ़ने वाला है क्योंकि अभी हाल में electric vehicle (EV) जैसे दैनिक उपयोग वाले उत्पाद को विकसित किया जा चुका है, जो पूरी तरह से बैट्री आधारित वाहन है. जैसे-जैसे ev की खपत बढ़ेगी, बैट्रियों के पुनर्चक्रीकरण व्यवसाय में संभावनाओं का बढ़ना भी सुनिश्चित है.

क्या waste recycling business profitable business है?

वैश्विक अपशिष्ट पुनर्चक्रण सेवाओं का बाजार वर्ष 2022 के अंत तक लगभग 60.41 बिलियन अमेरिकी डॉलर था, जो लगातार बढ़ता जा रहा है.

बैटरी कितने प्रकार की होती है?

प्रयोग के आधार पर 05 प्रकार की बैटरियों का उपयोग सबसे अधिक किया है-

1. लिथियम बैटरी (Lithium battery)- लिथियम बैटरी सबसे अधिक इस्तेमाल की जाने वाली बैटरी प्रकारों में से एक है.
2. क्षारीय बैटरी (Alkaline battery)- क्षारीय बैटरी किफायती, निपटाने में आसान और बेहद लोकप्रिय हैं.
3. कार्बन जिंक बैटरी (Carbon zinc battery)
4. सिल्वर ऑक्साइड बैटरी (Silver oxide battery)
5. जिंक एयर बैटरी (Zinc air battery)

रिचार्जेबल बैटरी कितने प्रकार की होती है?

रिचार्जेबल बैटरी प्रकार-

1. लिथियम आयन बैटरी (Lithium-ion batteries)
2. NiCd batteries
3. NiMH batteries

Scrap Metal Recycling Business

Scrap Metal waste recycling business भारत के सबसे लाभदायक उद्यमों/उद्योगों में से एक है, जिसकी शुरुआत बहुत ही कम/सीमित निवेश के साथ की जा सकती है. यदि आप ऐसे उद्यम/बिजनेस की तलास में हैं, जिसमें कभी भी मंदी का सामना न करना पड़ता हो तो Scrap Metal recycling business आपके भविष्य के लिए एक मुनाफे का कारोबार साबित हो सकता है.

हर एक धातु commodities के तहत आती है, और कोमोडिटी एक ऐसा एसेट है जिसकी कीमत समय के साथ धीरे-धीरे बढ़ती ही जाती है. इस लिहाज से आंकलन करने पर धातु पुनर्चक्रीकरण व पुनर्नवीनीकरण एक तगड़े लाभ का कारोबार है.

आज बहुत ही कम लोग हैं जो जानते हैं कि कचरा भी कमाई का जरिया बन सकता है, बशर्ते निपटान के सही तरीके आने चाहिए. यदि आप Scrap Metal recycling business के क्षेत्र में काम करना चुनते हैं तो  पैसा बनाने के साथ-साथ पर्यावरण की सुरक्षा के सकारात्मक पहल को भी बढ़ावा देते है. जो आने वाली भावी पीढ़ी के लिए किसी वरदान से कम नहीं.

Scrap Metal recycling business को शुरू करने के लिए कितने निवेश की आवश्यकता होती है?

छोटे स्तर पर Metal waste recycling business को शुरू करने के लिए कम से कम 05 लाख रूपये तथा मध्यम से बड़े स्तर पर यह लागत 10 से 30 लाख रूपये तक जा सकती है. आप निवेश का आंकलन खपत के आधार पर ही करें.

Scrap Metal waste recycling business के लिए सबसे अच्छा स्थान कौन सा माना जाता है?

ऐसा स्थान जहां सार्वजनिक परिवहन द्वारा आसानी से पहुंचा जा सके साथ यह भी सुनिश्चित करना जरूरी है कि आपके चयनित स्थान पर स्क्रैप मेटल एकत्र करने के लिए पर्याप्त जगह है अथवा नहीं.

Scrap Metal recycling business में लाभ कितना बनाया जा सकता है?

अमूमन Scrap Metal recycling business में profit लगभग 40 से 70% रहने का अनुमान रहता है, साथ ही डिमांड पर ये profit 100% तक भी बढ़ सकता है.

क्या मेटल वेस्ट रीसायकल बिजनेस का पंजीकरण कराना जरूरी है?

जी हां! मेटल वेस्ट ही नहीं बल्कि व्यवसायिक तौर पर स्थापित किये गए किसी व्यवसाय का पंजीकरण सरकार द्वारा निर्धारित प्रमाण पत्रों जैसे- msme व gst से कराना अनिवार्य है.

Agriculture Waste Recycling Business

हम जानते हैं कि हमारा देश भारत! एक कृषि प्रधान देश होने के नाते यहां पर कृषि अपशिष्ट भी तेजी से और बड़ी मात्रा में उत्पन्न होता है. कृषि अपशिष्ट (Agriculture Waste) मूल रूप से जैविक कृषि अपशिष्ट (organic waste) के रूप में जाना जाता है जो खेती प्रक्रिया के दौरान उत्पन्न होता है.

फसल की हार्वेस्टिंग के बाद खेतों में कचरे के तौर पर सूखी पत्तियां, छोटी लकड़ियों, धान के पुआल, पराली, गाय का गोबर और सड़ी हुई कृषि उपज आदि बच जाती हैं. अमूमन भारतीय कृषि के तहत ज्यादातर मामलों में इस निष्काषित कचरे को खेत में या एक छोटे डंपिंग ग्राउंड में ऐसे ही छोड़ दिया जाता है. जिस कारण मृदा का चक्र पूरा नहीं होता और जिससे भूमि की उर्वरा क्षमता भी प्रभावित होती है.

ऐसे में उत्पन्न हुए कृषि अपशिष्ट का प्राथमिकता पर निपटान (agricultural waste management) किया जाना जरूरी हो जाता है. यदि आप कचरे से कमाई करने वाले उद्यमों की खोज में है तो Agriculture Waste Recycling Business आपको तगड़े मुनाफे के साथ आपके भविष्य को नई राह दिखा सकता है.

असल में एग्रीकल्चर वेस्ट को रीसायकल कर कई प्रकार के उत्पादों का निर्माण बहुत ही सरलता से किया जा सकता है. Agriculture Waste Recycling Business वास्तव में पूरी तरह से waste to wealth को समर्पित है. साथ ही दैनिक उपयोग के उत्पाद के निर्माण करने के साथ पर्यावरण की सुरक्षा करने में भी अनुकूलता प्रदान करता है.

  1. कृषि अपशिष्ट (Farm/Agriculture Waste) से organic compost, vermi compost, vermi wash, cow dung compost, single use disposal जैसे- पेपर, कप, प्लेट, चारकोल आदि व अन्य
  2. फूल अपशिष्ट (Flower waste) से organic compost, vermi compost, vermi wash, perfume, रंग आदि व मांग के आधार पर अन्य.

अंत में-

हमारा उद्देश्य उन इच्छुक उम्मीदवारों, व्यवसायियों, व्यापारियों और कारोबारियों को बेहतर जानकारी प्रदान करना है, जो वेस्ट रीसाइक्लिंग व्यवसाय को करने के इच्छुक हैं और इस व्यवसाय में अपना भविष्य में देख रहे हैं.

नोट- किसी भी व्यवसाय को शुरू करने से पहले बाजार/मार्केट रिसर्च एवं खपत का आंकलन अनिवार्य रूप से अवश्य करें. ऐसा करने से आपको व्यवसाय में आने वाले जोखिम और दिक्कतों का सामना करने में आसानी हो जाएगी और बाजार में डिमांड के अनुरूप आप अपने products का निर्माण भी अच्छे से कर पाएंगे.

आशा है इस लेख ‘लाभदायक रीसायकल बिजनेस (Profitable Recycling Business)’ से आपको कचरे की महत्ता का अंदाजा जरूर मिला होगा. अगर आपने पूरी पोस्ट पढ़ी है तो अगली बार आप valuable waste को कचरे में फेकने से पहले जरूर सोचेंगे. 

इस पोस्ट ने आपको जागरूक जरूर किया होगा, भविष्य में शायद आप रीसाइक्लिंग बिजनेस के क्षेत्र को अपनाना जरूर चाहेगे. आज की पोस्ट में इतना ही… यदि कुछ छूट गया हो या कुछ पूछना चाहते हों तो कृपया comment box में जरूर लिखें. तब तक के लिए-

“शुभकामनाएं आपके कामयाब और सफल व्यापारिक भविष्य के लिए”

धन्यवाद!

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular