Business Ideasभारत में लॉन्ड्री बिजनेस कैसे शुरू करें | How to Start Laundry...

भारत में लॉन्ड्री बिजनेस कैसे शुरू करें | How to Start Laundry Business in India

लॉन्ड्री बिजनेस (Laundry Business): आज हर कोई पैसा कमाने के लिए अपने जीवन में कुछ ना कुछ काम करता रहता है. चाहे वह नौकरी हो या फिर कोई कारोबार. असल में नौकरी थोड़ी सी स्थिरता तो देती है लेकिन यदि आप लम्बे समय की बात की जाए तो नौकरी तभी तक स्थिरता देती है जब तक आप चलायमान रहते हैं, वहीं यदि आप मन मुताबिक पैसा कमाना चाहते हैं तो आपको बिजनेस जैसे घटक को अपनाना जरूरी है.

और जैसे-जैसे आपका बिजनेस पुराना होता है, वैसे-वैसे आपका मुनाफा और बाजार पकड़ भी मजबूत होती जाती है. किसी भी व्यवसाय को सफल बनाने का एक ही मूलमंत्र है- “निरंतर प्रयास करते रहना क्योंकि कोई भी बिजनेस छोटा नहीं होता बल्कि शुरुआत छोटे स्तर पर होती है.”

india's-most-profitable-लॉन्ड्री-बिजनेस-Laundry-Business

इसी सकारात्मक सोच के साथ आज इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको एक ऐसे सदाबहार चलने वाले बिजनेस आईडिया के बारे में जानकारी साझा करने जा रहे है, जिसकी डिमांड (विशेषकर शहरों में) लगातार बढ़ती जा रही है. साथ ही इस बिजनेस को छोटे स्तर से भी कम पूँजी निवेश के साथ आसानी से शुरू किया जा सकता है.

यह बिजनेस आईडिया है “लॉन्ड्री बिजनेस”. जिसकी शुरुआत बहुत ही छोटे स्तर से शुरू कर बड़े स्तर पर विस्तारित भी आसानी से किया जा सकती है. तो प्रश्न यह है कि इस बिजनेस को शुरू करने के लिए किन-किन समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है, और कितनी लागत/कितने पैसे खर्च हो सकते है? पर सबसे पहले आइये समझते हैं कि-

Table of Content

लॉन्ड्री क्या है और लॉन्ड्री बिजनेस किसे कहते हैं (What is laundry and what is called laundry business)-

दरअसल लॉन्ड्री बिजनेस के तहत औसत से बड़े पैमाने पर मैले कपड़े धोने का काम किया जाता है, इस काम को जिस स्थान पर किया जाता है उसे लॉन्ड्री कहा जाता है, साथ ही कपड़े धोने के काम से धनउपार्जन करना ही लॉन्ड्री बिजनेस कहलाता है.

पुराने समय की लांड्रीयों में कपड़े एक/कई धोबियों (washer-man) के द्वारा किया जाता था, परन्तु आधुनिक दौर मैले कपड़े धोने का काम automatic washing machines की मदद से किया जाता है. व्यवसायिक नजरिये से अगर बात की जाए तो लॉन्ड्री व्यवसाय अच्छे खासे मुनाफे को इंगित करता है और आज के दौर में लॉन्ड्री का होना बहुत ही जरूरी हो गया है.

मौजूदा दौर में हर एक व्यक्ति अपने काम में व्यस्त रहता है. जिस कारण वह अपने छोटे-मोटे जरूरी काम जैसे कपड़ों को धुलना व इस्त्री आदि नहीं कर पाते हैं. और दूसरे को करने के लिए देता है. लॉन्ड्री का काम में आपको दूसरे के कपड़े को धोना होता है. और उसे अच्छी तरह से सुखा करके आयरन करके उसको ग्राहक तक पहुचाना होता है.

लॉन्ड्री बिजनेस स्थापित करने के लिए स्थान-

ड्राई क्लीनिंग/लॉन्ड्री बिजनेस शुरू करने से पहले आपको ऐसे सार्वजानिक स्थानों/जगहों का चयन करना होता है. जहाँ पर लॉन्ड्री सेवा की डिमांड हो ये स्थान जैसे- हॉस्पिटल, होटल, हॉस्टल घनी आबादी वाले शहर व कसबे आदि हो सकते हैं.

अमूमन लॉन्ड्री बिजनेस/ड्राई क्लीनिंग बिजनेस को स्थापित और सफलता पूर्वक संचालित करने के लिए आपको कम से कम 300-1500 sqft स्थान की आवश्यकता होती है. चयनित स्थान का 40% भाग छायादार होना आवश्यक है, साथ ही चयनित स्थान पर बिजली व साफ जल की व्यवस्था होनी भी आवश्यक है.

नोट- स्थान के क्षेत्र का चयन इस प्रकार करें कि बिजनेस को अच्छी तरह से संचालित कर सकें, साथ ही कपड़ों को धोने, सुखाने के अलावा आयरन आदि कर सीमित समय तक सुरक्षित भी  रख सकें. इसके साथ ही ग्राहक की सुविधा के लिए थोड़ा स्थान अवश्य सुरक्षित रखें.

लॉन्ड्री बिजनेस का रजिस्ट्रेशन (Laundry Business Registration)-

किसी भी बिजनेस को शुरू करने का पहला मानक होता है, उस उद्यम का पंजीकरण. यह पंजीकरण ही होता है, जिससे आपको अपने बिजनेस की पहचान बाजार में मिलती है.

लॉन्ड्री बिजनेस का रजिस्ट्रेशन बनाने के लिए/कारोबार को शुरू करने के लिए भारत सरकार द्वारा निर्धारित किए गए मानक प्रमाण पत्रों से पंजीकृत कराना होता है। यह पंजीकरण हैं-

  1. Firm Registration
  2. MSME Registration
  3. Commercial Electricity License
  4. GST No.
  5. NOC Certificate from Pollution Department & Fire Control Board
  6. Land Agreement or Rent Agreement(if applicable)
लॉन्ड्री-बिजनेस-Start-Laundry-Business

लॉन्ड्री बिजनेस सेटअप करना (setup a laundry business)-

लॉन्ड्री बिजनेस को सफलता पूर्वक संचालित करने के लिए इच्छुक उद्यमी के पास सबसे लॉन्ड्री व ड्राई क्लीनिंग मशीन को सेटअप करने की आवश्यकता है. जिससे व्यवसाय को बढ़ाने में मदद जैसे- कपडे को धोकर, सुखाकर और अच्छी तरह से इस्त्री करने में सहूलियत हो सके.

लॉन्ड्री बिजनेस में मशीन व उपकरण की आवश्यकता-

  • वाशिंग मशीन
  • स्टीम जेनरेटर
  • टेबल
  • आयरन मशीन
  • प्रेस टेबल
  • कैलेंडरिंग मशीन
  • प्रेशर वाशिंग जेट (वैकल्पिक)

इन सभी मशीनों व उपकरणों की सहायता से ही सफल लॉन्ड्री व ड्राई क्लीन के बिजनेस की शुरुआत होती है. इनके अलावा आप व्यवसाय में सुविधानुसार कुर्सी, टेबल, कूलर व फैन आदि भी जोड़ सकते है.

इसे भी पढ़ें- CNC Router Machine से करें अपने उद्यम की शुरुआत

कर्मचारी/हेल्पर का चयन करना-

बड़े स्तर पर किसी भी कारोबार की सफल शुरूआत करने के लिए मुख्यत: सहायक कर्मचारियों/हेल्पर की आवश्यकता पड़ती है. जो उस व्यवसाय को चलाने और सफल बनाने में बहुत ही ज्यादा मदद करते हैं.

बड़े स्तर पर लॉन्ड्री बिजनेस/ड्राई क्लीनिंग बिजनेस को सफल बनाने के लिए सहायक कर्मचारियों/हेल्पर का चयन व्यवसाय की खपत व मांग के आधार पर ही करें. यदि आप छोटे स्तर पर अपना उद्यम/व्यवसाय शुरू कर रहे हैं तो छोटे स्तर पर कम से कम 02 सहायक कर्मचारियों/हेल्पर की आवश्यकता होती है.

इसके साथ ही जैसे-जैसे आपका व्यवसाय बढ़ता व बड़ा होता है. आप अपने हिसाब से सहायक कर्मचारियों/हेल्पर का चयन कर सकते है. हेल्पर का होना एक व्यवसाय में बहुत ही जरूरी होता है. जो आपको पैसे कमा कर देता है.

लॉन्ड्री बिजनेस व ड्राई क्लीनिंग बिजनेस में क्लीनिंग उत्पादों का उपयोग-

हम जानते है कि लॉन्ड्री बिजनेस व ड्राई क्लीनिंग बिजनेस में कपड़ों को धोने का काम बड़े स्तर पर किया जाता है. ऐसे में कपड़ों को साफ, स्वच्छ व सुरक्षित बनाए रखने के लिए अच्छी गुणवता के क्लीनिंग एजेंटो का उपयोग किया जाता है. मसलन-

  1. लिक्विड डिटर्जेंट/डिटर्जेंट पाउडर
  2. साल्वेंट व ब्लीच
  3. ब्रश व स्थान की सफाई के लिए उच्च गुणवत्ता की फिनायल एवं
  4. परफ्यूम

ये सभी मटेरियल लॉन्ड्री व ड्राई क्लीनिंग बिजनेस की सफल शुरूआत करने के लिए जरूरी होते हैं. इनकी सहायता से आप मैले कपड़ों को आराम से धो सकते है साथ ही पुराने कपड़ों को नये कपड़े की तरह चमका भी सकते है.

कपड़ों की सफाई के बाद कपड़ो को तह लगाकर/पैकेजिंग कर ग्राहकों तक पहुचाये जाते है. लॉन्ड्री बिजनेस व ड्राई क्लीनिंग बिजनेस में उपयोग में लिए जाने वाले सभी क्लीनिंग एजेंट आपको अपने स्थानीय थोक व खुदरा दुकानों पर आसानी से उपलब्ध होते हैं, आप वहां से ले सकते हैं.

ड्राई क्लीनिंग/लॉन्ड्री बिजनेस की लागत-

बड़े स्तर पर ड्राई क्लीनिंग/लॉन्ड्री बिजनेस के पूरे automatic setup में कम से कम लगभग 04 से 08 लाख रुपए (GST अलग से) की पूंजी का निवेश करना होगा. यह निवेश मशीनों, स्थान, कच्चे माल की क्रय दर के अलावा मैनपावर के चयन पर घट अथवा बढ़ भी सकता है।

वहीं यदि आप इस बिजनेस को छोटे स्तर पर शुरू करने के इच्छुक हैं तो छोटे स्तर पर इस बिजनेस की लागत लगभग 1.50 से 03 लाख रूपये तक संभावित है. यह निवेश मशीनों, स्थान, कच्चे माल की क्रय दर के अलावा मैनपावर के चयन पर घट अथवा बढ़ भी सकता है।

लॉन्ड्री बिजनेस में मुनाफा-

लॉन्ड्री बिजनेस व ड्राई क्लीनिंग के व्यवसाय में मुनाफा क्षेत्रीय आधार पर भिन्न-भिन्न होता है. यह बिजनेस एक सेवा प्रदान आधारित व्यवसाय है, इसलिए इसमें प्राप्त होने वाला मुनाफा भी घटता-बढ़ता रहता है, परतुं इस कारोबार में कभी भी नुकसान नहीं होता.

उदहारण के तौर पर यदि आपकी लॉन्ड्री में प्रतिदिन 100 से 200 कपड़ो को धुलाई की जाती है, जिसमें आप यदि प्रति कपड़ा 20-30 रुपया मजदूरी मूल्य लेते हैं तो 200 कपड़ो का मूल्य कम से कम  6000 रूपये तक प्रतिदिन आसानी से कमा सकते है.

लॉन्ड्री बिजनेस में समस्याएं क्या होती हैं?

कोई भी समस्या एक चुनौती होती है, यदि आप चुनौतियों से लड़ना जानते हैं तो ड्राई क्लीनिंग जैसे बिजनेस में आपको कोई भी पिछाड नहीं सकता. अमूमन लॉन्ड्री बिजनेस के शुरूआती चरणों में कुछ समस्याएं देखने को मिलती हैं-

1. लॉन्ड्री बिजनेस को स्थापित करने से पहले सही स्थान के चुनाव पर ध्यान न देना
2. कारोबार को तन्मयता से संचालित करने आना-कानी वाला रुख
3. ग्राहक को अपने कारोबार को परिभाषित न कर पाना
4. ग्राहकों के प्रति उदासीन रवैया
5. खुद की लॉन्ड्री होते हुए भी अन्य लॉन्ड्री से क्लीनिंग करवाना
6. प्रारंभिक मार्केटिंग पर ध्यान न देना
7. पूरा बिजनेस मॉडल ही लोन पर चलना

ये उन बड़ी समस्याओं में से हैं जो अधिकतर नए उद्यमियों के साथ देखने को मिलती हैं, यदि आप लॉन्ड्री बिजनेस/ ड्राई क्लीनिंग के बिजनेस में अपना एक सफल भविष्य बनाना और अच्छा मुनाफा कमाना चाहते हैं, तो ऊपर बताई गई सभी बातों पर गहनता से समझे उसके बाद ही अपने business plan पर काम करें.

व्यवसायिक तौर पर लॉन्ड्री बिजनेस के तहत किस-किस कपड़े की धुलाई की जाती है?

व्यवसायिक स्तर पर अमूमन लगभग हर बड़ी लॉन्ड्री में उन कपड़ों की धुलाई व ड्राई क्लीनिंग बहुत अच्छे से की जाती है, जिन्हें हांथो से आसानी से नहीं साफ किया जा सकता है. ये कपड़े हैं-

1. दरी, गलीचे, कालीन
2. पावदान
3. ड्राई क्लीनिंग में कोट, ब्लेजर व जरी के कपड़े महँगी साड़ियाँ
4. भारी कम्बल, गद्दे आदि

मुनाफे की दृष्टी से इन प्रकार के कपड़ों की सफाई में बहुत अच्छा मुनाफा बन जाता है.

लॉन्ड्री बिजनेस की मार्केटिंग-

बाजार का सबसे कठोर नियम है- “जो दिखता है वही बिकता है.” इसका मतलब यह है कि बढ़िया से बढ़िया उत्पाद अगर अपने वांछित ग्राहक तक नहीं पहुंच पा रहा है तो उस उत्पाद अथवा सेवा के खपत होने की सम्भावना न के बराबर ही होती है.

आप जानते ही हैं कि वर्तमान दौर पूरी तरह से विज्ञापन आधारित मार्केटिंग का चल रहा है. जहां छोटे से छोटे बिजनेस की बड़े से बड़े स्तर की मार्केटिंग की जाती है. लॉन्ड्री बिजनेस की मार्केटिंग के लिए-

  1. ब्रांड नाम छोटा, आकर्षक और याद करने योग्य रखे
  2. फ्री ऑफ़र के तहत फ्री पिक-अप व डिलीवरी की सुविधा
  3. अपनी ब्रांड को आप ऑनलाइन के मध्यम से भी मार्केटिंग कर सकते है
  4. लोकल ऑनलाइन स्टोर पर लिस्टिंग

अंत में-

यदि आप अपना खुद का एक सफल कारोबार/उद्यम बनाना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको अपनी चीजों को देखने, परखने और आंकलन करने के नजरिये पर जोर देना जरूरी है और जब आप ऐसा करेंगे तो आपका साधारण mindset एक business mindset में बदलने लगेगा. जो आपके वांछित बिजनेस की सफलता के लिए जरूरी है.

पॉजिटिव माइंडसेट के साथ आप एक सफल व्यवसायीय बनने की राह पर निकल सकते हैं और भविष्य के भावी व्यवसायीय, उद्यमी या कारोबारी भी बन सकते हैं. आज की पोस्ट में इतना ही ….

आशा है इस लेख “लॉन्ड्री बिजनेस कैसे शुरू करें (How to Start Laundry Business)” से आपको laundry business की अहम जानकारी जरूर मिली होगी, साथ ही यदि कुछ छूट गया हो या कुछ कहना या पूछना चाहते हों तो कृपया comment box में लिखें…. पोस्ट अच्छी लगी हो तो इसे अपने साथियों व जरूरतमंद लोगों के साथ share करना बिल्कुल न भूलें, आपका एक share शायद किसी को नई दिशा दिखा दे……

“शुभकामनाएं आपके सफल कारोबारी/व्यवसायिक भविष्य के लिए”

धन्यवाद!

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular