Product Manufacturingएक्टिवेटेड चारकोल बनाने का बिजनेस | Activated Charcoal Making Business

एक्टिवेटेड चारकोल बनाने का बिजनेस | Activated Charcoal Making Business

एक्टिवेटेड चारकोल बनाने का बिजनेस (Activated Charcoal Making Business): एक्टिवेटेड चारकोल सभी जीव जगत के लिए एक अद्भुत सामग्री है जिसका उपयोग विभिन्न क्षेत्रों में होता है, क्योंकि इसमें कई उत्कृष्ट गुणधर्म और विशेषताएं पाई जाती हैं।

चारकोल को एक्टिवेट करने की प्रक्रिया (process of activating charcoal) में यह कार्बन के गुणकारी स्वरुप (परत दर परत) को बनाता है, जिससे इसकी उपयोगिता में वृद्धि हो जाती है।

एक्टिवेटेड चारकोल का सबसे प्रमुख उपयोग प्रदूषण निवारण में होता है, विशेषकर जल और वायु सफाई में। चारकोल में घटकों के विषैले पदार्थों को सोखकर पुनः उपयोग करने लायक बनाने की क्षमता होती है, जिससे यह बड़े स्तर पर पानी और हवा को शुद्ध करने में मदद करता है।

एक्टिवेटेड-चारकोल-बनाने-का-बिजनेस-Activated-Charcoal-Making-Business

चारकोल को एक्टिवेट (जाग्रत) करके इसे रीसायकल क्षेत्रों, निर्माण उद्योगों में बड़े पम्प्स और इंधन के संग्रहण के लिए भी प्रयोग किया जाता है। चारकोल का सार्वजनिक स्वास्थ्य में भी इस्तेमाल किया जाता है, मसलन- मेडिकल में विषाणु और द्रव्यों को सोखने के लिए। इसके अलावा दैनिक उत्पादों जैसे- दांतों की सफाई, माउथवॉश, फेस वाश, नहाने के साबुन, पेट की सफाई, त्वचा निखार व कई प्रकार के कॉस्मेटिक उत्पाद बनाने में भी होता है।

एक्टिवेटेड चारकोल बनाने की प्रक्रिया में सावधानी जरूरी है, ताकि चारकोल के सभी गुणधर्मों को सुरक्षित रखा जा सके। वैसे भी कोरोना महामारी के बाद अधिकतर मनुष्य अपने स्वास्थ्य के प्रति जागरूक होते जा रहे हैं, ऐसे में चारकोल उपभोग का दायरा लगातार बढ़ता जा रहा है।

आज इस पोस्ट के माध्यम से हम आपके साथ एक्टिवेटेड चारकोल बनाने के बिजनेस के बारे में विस्तृत जानकारी साझा करने जा रहे हैं, यदि आप इस नए साल में अपना स्टार्टअप करने की सोच रहे हैं तो एक्टिवेटेड चारकोल बनाने का बिजनेस (Activated Charcoal Making Business) आपके लिए मुनाफे का सौदा साबित हो सकता है। तो चलिए शुरू करते हैं-

अनुक्रमिका

एक्टिवेटेड चारकोल बनाने की प्रक्रिया व रॉ मटेरियल (Activated charcoal process and raw material)-

एक्टिवेटेड चारकोल बनाने की प्रक्रिया में चारकोल को विशेष तरीके से तैयार किया जाता है ताकि इसमें विशेष गुण समाहित हो सके। इस प्रक्रिया को निम्न चरणों में पूरा किया जाता है-

  1. एक्टिवेटेड चारकोल बनाने के लिए लकड़ी का चयन: एक्टिवेटेड चारकोल बनाने के लिए सबसे पहले चरण में उच्च गुणवत्ता वाली लकड़ी का चयन (wood selection) किया जाता है, जैसे- नारियल खोल (Coconut Shell), बांस, ओक, देवदार व इमली आदि।

नोट- वैसे किसी भी प्रकार की लकड़ी अथवा फसल वेस्ट जैसे- पराली, लकड़ी बुरादा व खर-पतवार से भी चारकोल बनाया जा सकता है। चारकोल बनाने के लिए चयन की जाने वाली सामग्री का पूर्ण रूप सूखा होना जरूरी है।

  1. लकड़ी की कटाई और सुखाना: इसके बाद लकड़ी को छोटे टुकड़ों में काट कर उन्हे सुखाना है, जिससे उसमें से सारी नमी वाले तत्वों को नष्ट करना आवश्यक है।
  2. एक्टिवेटेड चारकोल बनाने का फर्मूला: एक्टिवेटेड चारकोल को बनाने के लिए विशेष गैसों का मिश्रण ओवन या भट्टी में किया जाता है, जिसमें कार्बन डाई ऑक्साइड की मात्रा को तेजी से बढ़ाया जाता है जितना अधिक CO2 की मात्रा बढ़ेगी, उतना ही बेहतर गुणवत्ता का चारकोल बनता है।
  3. स्तरीकृत/संतुलित करना: चारकोल स्तरीकृत करने के लिए प्राप्त कोयले की गुणवत्ता को समृद्ध बनाने के लिए संतुलन की प्रक्रिया अपनाई जाती है। प्राप्त कोयले को पीस कर उसमें स्टार्च पाउडर को भी मिलाया जाता है।

नोट- एक्टिवेटेड चारकोल का उपयोग विभिन्न क्षेत्रों में होता है, जैसे- दवाई/ड्रग्स उद्योग, पर्यावरण पारिस्थितिक संवर्धन तथा कॉस्मेटिक/सौंदर्य उत्पादों में एक्टिवेटेड चारकोल का प्रयोग किया जा रहा है।

एक्टिवेटेड चारकोल बनाने के लिए मशीनरी (Machinery to make charcoal)-

रॉ मटेरियल के बाद दूसरी आवश्यक चीज है रॉ मटेरियल से चारकोल बनाने वाली मशीनरी और औजारों की। बड़े स्तर पर एक्टिवेटेड चारकोल बनाने के लिए आवश्यक मशीनरी और औजार इस प्रकार हैं-

  1. Carbonizing Machine (कीमत- 85,000 रुपए प्रति यूनिट से शुरू) छोटे स्तर पर इस कार्य को भट्टी के माध्यम से भी किया जा सकता है।
  2. Grinding Machine (कीमत- 2,00,000 रुपए प्रति यूनिट से शुरू)
  3. Mixing Machine (कीमत- 1,00,000 रुपए प्रति यूनिट से शुरू)
  4. Briquette Making Machine (कीमत- 4,00,000 रुपए प्रति जोड़े से शुरू)
  5. Charcoal Dryer (कीमत- 2,50,000 रुपए प्रति पीस से शुरू) छोटे स्तर पर इस कार्य को सूरज की धूप व मौसम के अनुकूल भी किया जा सकता है।
  6. डिजिटल तराजू
  7. इसके अलावा भी आपको फैक्ट्री सेटअप और सम्बंधित मैनपावर के लिए भी लगभग (4,00,000 रुपए) लागत लगानी पड़ सकती है।

उपरोक्त बताए गए रॉ मटेरियल व सामग्री की कीमत समय-समय पर बाजार उतार-चढ़ाव के कारण घट-बढ़ सकती है। यदि आपके लोकल मार्केट में यह रॉ मटेरियल नहीं मिल पा रहा है तो इसे आप ऑनलाइन भी आर्डर दे सकते/सकती हैं। इसके लिए आप इन वेबसाइट्स की मदद ले सकते/सकती है-

  1. www.indiamart.com
  2. www.tradeindia.com

एक्टिवेटेड चारकोल बिजनेस स्थापित करने के लिए आवश्यक स्थान- 

छोटे स्तर पर हैंडमेड चारकोल बनाने का बिजनेस स्थापित करने के लिए आपको कम से कम 500 वर्ग फुट के स्थान की जरूरत होती है। जहां आप अपनी निर्माण इकाई की शुरुआत कर सकते/सकती हैं। व्यापार बढ़ने पर अपने कार्य स्थल के स्थान में बढ़ोत्तरी करना जरूरी है।

वहीं यदि आप बड़े स्तर पर चारकोल बनाने का बिजनेस/उद्यम स्थापित करना चाहते हैं तो आपको कम से कम 1000 sqft से 1500 sqft स्थान की आवश्यकता होगी, जहां चयनित स्थान पूरी तरह से नमी, बारिस व प्रदूषण आदि से संरक्षित होना जरूरी है,

तथा चयनित स्थान पर कच्चा व तैयार माल/उत्पाद के साथ संचालित की जाने वाली मशीनों के स्थान व कर्मचारियों के आने जाने का स्थान सुनिश्चित किया जाना आवश्यक होता है। व्यवसायिक तौर पर चारकोल बनाने की फैक्ट्री यदि किसी कामर्शियल क्षेत्र के अंतर्गत आती हो तो सबसे उत्तम है।

इसके साथ ही आपके चयनित स्थान पर बिजली पैनल व पानी की व्यवस्था का होना और क्रय-विक्रय सम्बन्धी क्रिया-कलापों के सुगम संचालन के लिए वाहनों के आवगमन की व्यवस्था भी होनी जरूरी है।

एक्टिवेटेड चारकोल बिजनेस का पंजीकरण-

बाजार में चारकोल का व्यापार शुरू करने से पहले आपको अपनी कम्पनी/एजेन्सी का पंजीकरण कराना अनिवार्य है, क्योंकि पंजीकरण या रजिस्ट्रेशन लेना ही किसी भी व्यापार को शुरू करने के लिए पहला मानक है। पंजीकरण या रजिस्ट्रेशन के बाद ही आप अपनी कम्पनी/एजेन्सी और उत्पाद का प्रचार मार्केट/बाजार में कर सकते हैं।

चारकोल बिजनेस शुरू करने के लिए आप भारत सरकार द्वारा विकसित किये गए उद्यमी पोर्टल MSME पर अपने व्यापार की लागत के अनुरूप सूक्ष्म, मध्यम और लघु उद्योग अंतर्गत श्रेणियों में पंजीकरण करा सकते हैं। इसके साथ ही आपको GST No. भी लेना अनिवार्य है, उत्पाद की गुणवत्ता के लिए ISO Certification भी करा सकते हैं। इसके अतिरिक्त ये प्रमाणन भी जरूरी हैं-

  1. FSSAI
  2. Trade License
  3. NOC form Fir & Pollution Control Board
  4. IEC (for export)

क्या मुझे भारत में एक्टिवेटेड चारकोल बेचने के लिए किसी लाइसेंस लेने या पंजीकरण कराने की आवश्यकता है?

औषधि और प्रसाधन सामग्री अधिनियम के अनुसार, एक्टिवेट चारकोल से बने सौंदर्य प्रसाधनों को बनाने व उनकी बिक्री के नियम हर राज्य में भिन्न होते हैं।

इसलिए यह आवश्यक है कि प्राकृतिक/ओर्गेनिक उत्पादों की बिक्री से पूर्व तथा थोक व खुदरा व्यापार करने के दृष्टिगत प्रमाणन, पंजीकरण या लाइसेंस लेना अनिवार्य है। यह एक भारत सरकार द्वारा निर्धारित किया गया मानक है।

एक्टिवेटेड चारकोल का मूल्य निर्धारण (Pricing of activated charcoal)-

किसी भी नए उत्पाद को बाजार में बिक्री करने के लिए सबसे अहम भूमिका निभाता है उसका मूल्य! और यह सार्वभौम सत्य है क्योंकि आज कोरोना काल के बाद लगभग कई देशों में मंहगाई बढ़ चुकी है जिसका काफी हद तक असर हमारे देश भारत पर भी पड़ा है। 

इसलिए बाजार को देखते हुए आप अपने उत्पाद का मूल्य बाजार में मौजूद अन्य उत्पादों की अपेक्षा कुछ कम ही रखें लेकिन उत्पाद की गुणवत्ता से कोई समझौता न करें, बेहतरीन गुणवत्ता के कारण आपका उत्पाद धीरे-धीरे मार्केट/बाजार में प्रसिद्ध होने लगेगा

और जिससे आप अपने कारोबार कोछोटे से बड़े स्तर पर विस्तारित कर सकते हैं। कम मूल्य पर उत्पाद बेचने की शुरुवात आपको अपने लोकल मार्केट से ही करनी चाहिए।

व्यवसाय के लिए लोन (Loan)-

एक्टिवेटेड चारकोल बनाने का व्यवसाय शुरू करने के लिए आपको अपनी फर्म/कंपनी/एजेंसी का रजिस्ट्रेशन/पंजीकरण MSME (सूक्ष्म एवं लघु उद्योग) के अंतर्गत करना होगा, इस पंजीकरण के माध्यम से आप किसी भी बैंक से लोन के लिए apply कर सकते हैं। जो आपको आपके व्यवसाय स्तर के आंकलन के मुताबिक लोन दे सकता है।

लघु उद्योग को बढ़ावा देने के लिए भारत सरकार द्वारा मेक इन इण्डिया के तहत प्रधानमंत्री मुद्रा योजना, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना (PMEGP) व कौशल विकास योजना आदि के माध्यम आपको आसानी से ऋण/लोन मिल सकता है। इसके लिए आपको अपनी फर्म/कंपनी/एजेंसी के पंजीकरण संख्या से सरकारी योजनओं के तहत आवेदन करना होगा।

सरकारी योजनओंके तहत लघु उद्योग हेतु ऋण/लोन लेने के लिए आप अपने क्षेत्रीय सरकारी बैंक की शाखा से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

बिल व ब्यौरा तैयार करना-

अधिकतर नए व्यापारी कोई भी नया व्यापार लागत लगाकर शुरू तो कर देते हैं लेकिन लागत के रूप में खर्चे गए पैसों का हिसाब सही ढंग से नहीं रखते, जो कि एक उभरते हुए व्यापारी के लिए अच्छी बात नहीं है।

आज के इस डिजिटल दुनिया में अपने खर्चों को सूचीबद्ध करना बहुत ही आसान है। इसके लिए आज ढेरों software और application मौजूद हैं। यदि आप एक smart phone अपने पास रखते हैं तो Google play store पर billing और accounting से जुडी ढेरो application मौजूद हैं। आप उनमें से किसी एक उपयोग कर सकते हैं।

इन application में आप अपने तैयार समान के बिल बनाने से लेकर अपनी लागत का ब्यौरा भी सुरक्षित रख सकते है, और इससे आपको पता रहेगा कि आपने अपने बिजनेस में अब तक कुल कितनी लागत लगाई है और कितना मुनाफा किया है।

एक्टिवेटेड चारकोल कारोबार में मुनाफा (Profit in charcoal business)-

अब बात करते है मुनाफे या लाभ की, जो हर एक कारोबारी को सबसे उच्च स्तर का प्राप्त करने की अभिलाषा होती है, मौलिक तौर पर मुनाफा एक ऐसा शब्द है जो हर किसी को एक नई प्रेरणा देता है। 

चारकोल कारोबार में मुनाफे की अगर बात की जाये तो बड़े स्तर स्थापित किये गए इस कारोबार से आप महीने के 3 से 4 लाख रूपये तक की कमाई बड़ी ही आसानी से कर सकते है। वहीँ अगर छोटे स्तर पर अगर मुनाफे की बात की जाये तो छोटे स्तर पर भी 8 से 15 हजार रूपये आसानी से बनाये जा सकते हैं।

नोट- मुनाफा पूरी तरह से आपके स्थापित प्लांट लेवल और खपत पर निर्भर करता है।

दैनिक जीवन में एक्टिवेटेड चारकोल का उपयोग (Use of charcoal in daily life)-

दैनिक जीवन में चारकोल का उपयोग (एक्टिवेटेड चारकोल के फायदे- Benefits of activated charcoal) कई तरीकों से किया जा सकता है या किया जा रहा है-

  1. पानी शुद्धि के लिए: चारकोल को पानी में मिलाकर पीने तथा अशुद्ध जल को एक्टिवेटेड चारकोल से छानने से पानी में मौजूद अवांछित तत्वों को बड़ी ही आसानी से हटाया जा सकता है और पानी को शुद्ध किया जा सकता है।
  2. त्वचा निखार के लिए उपयोगी: एक्टिवेटेड चारकोल को त्वचा में निखार पाने के लिए सबसे कारगर घटक मन गया है, क्योंकि यह त्वचा की गंदगी, अतिरिक्त तेल और ओवर मेकअप को सोखकर त्वचा में निखार पैदा कर सकता है।
  3. फ़्लोराइड मुक्त टूथपेस्ट बनाने के लिए: चारकोल से बना गया टूथपेस्ट दांतों के फ़्लोराइड को कम करने में मदद करता है और दांतों को सफेद और स्वस्थ बनाए रखने के लिए विशेष प्रभावी होता है।
  4. दुर्गंध मुक्ति के लिए: चारकोल का उपयोग बदबू मिटने के तौर पर भी किया जाता है, मसलन- सड़े-गले कचरे/अपशिष्ट से उत्सर्जित दुर्गन्ध को शुद्ध करने के लिए रेफ्रिजरेटर, कैबिनेट्स में उपयोग व कचरे के ढेर को ढकने में उपयोग किया जा सकता है।
  5. बार्बीक्यू और ग्रिलिंग: साधारण चारकोल (कोयला रूप) बार्बीक्यू और ग्रिलिंग में उपयोग होता है, जिससे भोजन बनाने में किया जाता है, चारकोल पर बना भोजन एक खास आरोमा/सुगंध से युक्त और बेहतर स्वाद की गुणवत्ता प्रदान करता है।
  6. प्राथमिक उपचार: प्राचीन समय में चारकोल को प्राथमिक स्वास्थ्य उपचार के लिए भी इस्तेमाल किया जाता था, जो आज भी कायम जैसे- मुँह की बदबू को दूर करने और दान्त साफ करने के लिए टूथ पेस्ट/माउथवॉश।

चारकोल का उपयोग सौंदर्य उत्पादों (cosmetic industry) में भी लगातार बढ़ रहा है क्योंकि दैनिक दर पर भी चारकोल का बड़ी मात्रा में उपभोग किया जा रहा है। मसलन-

  1. त्वचा शुद्धि: साधारण चारकोल को उबालकर निर्मित किये गए एक्टिवेटेड चारकोल का उपयोग त्वचा से अतिरिक्त तेल को सोखने के अलावा अतिरिक्त कार्बन से मुक्ति पाने के लिए सर्वाधिक किया जाता है, ऐसा करने से त्वचा को शुद्ध और स्वच्छ बनाए रखने में मदद मिलती है।
  2. मुँहासों का इलाज: चारकोल का नियमित उपयोग मुँहासों और दाग-धब्बों को कम करने में भी किया जाता है, क्योंकि यह त्वचा की गंदगी और अतिरिक्त तेल को सोखने में सक्षम होता है।
  3. दांतों का सफाई: मौजूदा समय में एक्टिवेटेड चारकोल से बने टूथपेस्ट और माउथवॉश जैसे उत्पादों का निर्माण बड़ी मात्रा में किया जा रहा है, क्योंकि एक्टिवेटेड चारकोल दांतों से दाग/धब्बे और कीटाणुओं को हटाने में मदद भी करता है।
  4. कॉस्मेटिक प्रोडक्ट्स: चारकोल से हर्बल शैम्पू, कंडीशनर और हेयर मास्क, फेस मास्क, हैण्ड वाश, फेस वाश, साबुन आदि निर्मित किये जाते हैं, जो हमारी त्वचा के साथ-साथ हमारे बालों को स्वच्छ और मोलेक्यूलर स्तर पर सुन्दर और सुव्यवस्थित बनाने का काम करता है।

इन तरीकों से, चारकोल हमारे दैनिक जीवन के विभिन्न क्षेत्रों में उपयोगी साबित हो रहा है साथ ही स्वस्थ्य और सुरक्षित जीवन शैली को जीने को प्रोत्साहन दे रहा है। चारकोल के इन उपयोगों ने एक्टिवेटेड चारकोल को सौंदर्यिक देखभाल में एक प्रमुख घटक बना दिया गया है जो त्वचा, दांत, बालों के अलावा अपशिष्ट प्रबंधन/वेस्ट रीसायकल में भी उपयोगी साबित हो रहा है।

एक्टिवेटेड चारकोल से क्या-क्या बनाया जाता है?

एक्टिवेटेड चारकोल से कई उपयोगी और उत्कृष्ट उत्पाद बनाए जाते हैं, मसलन-

1. कई प्रकार से फ़िल्टर्स जैसे- एयर, वाटर फ़िल्टर व perfume oil/इत्र फ़िल्टर्स आदि।
2. डेंटल व बॉडी केयर उत्पाद जैसे- टूथपेस्ट, माउथवॉश व टेबलेट्स, चारकोल कैप्सूल्स और लीक्विड आयल्स आदि।
3. स्किनकेयर उत्पाद जैसे- त्वचा को साफ़ करने के लिए मास्क, फेसवाश, स्क्रब, पीलऑफ, साबुन आदि।
4. हेयरकेयर उत्पाद जैसे- शैम्पू और हेयर मास्क आदि।
5. खेती उत्पाद: एक्टिवेटेड चारकोल को खेतों में मिश्रित करके मिट्टी की गुणवत्ता को बढ़ावा दिया जा सकता है, जिससे उपज में सुधार आता है।

चारकोल पाउडर क्या होता है?

चारकोल पाउडर, जिसे कभी-कभी एक्टिवेटेड चारकोल पाउडर भी कहा जाता है, यह चारकोल की धूल या चूर्ण होता है, जिसे विशेष प्रक्रिया के माध्यम से बनाया जाता है।

साधारण चारकोल को एक्टिवेट करने के लिए, चारकोल को विशेष गैसों के संपर्क में रखकर ऊबाला/गर्म किया जाता है ताकि इसकी गुणवत्ता और निखर जाये।
आमतौर पर एक्टिवेटेड चारकोल को स्वास्थ्य, सौंदर्य उद्योग और विज्ञान अनुसंधान में उपयोग के लिए बनाया जाता है।

चारकोल को और कितने नामो से पहचाना जाता है?

आमतौर पर चारकोल को लकड़ी का कोयला, काठ कोयला, काष्ठ कोयला, चारकोल (Charcoal) अथवा काला-भूरा कोयले के नाम से भी जाना जाता है।

अंत में-

आज हर मनुष्य अपने आपको हर हाल में स्वच्छ रखने का प्रयास करता है, क्योंकि खुद की स्वच्छता काफी हद तक सामाजिक प्रतिष्ठा के द्योतक के रूप में जानी जाती है। और जब से महामारियों का दौर शुरू हुआ है तभी से लोगों ने स्वच्छता सम्बन्धी उत्पादों को संजीदगी से लेना शुरू किया है। 

जिस कारण स्वच्छता संबंधी उत्पाद जैसे चारकोल, क्लीनर व अन्य स्वच्छता संबंधी उत्पादों की उपयोगिता और भी बढ़ चुकी है। फलस्वरूप एक्टिवेटेड चारकोल बनाने का बिजनेस/उद्यम में नई संभावनाएं पैदा होती जा रही है। जिसके चलते एक्टिवेटेड चारकोल बनाने का व्यवसाय लगाना एक फायदेमंद विकल्प साबित हो सकता है।

नोट- किसी भी व्यवसाय को शुरू करने से पहले बाजार/मार्केट रिसर्च एवं खपत का आंकलन अनिवार्य रूप से अवश्य कर लें, ऐसा करने से आपको व्यवसाय में आने वाले जोखिम और दिक्कतों का सामना करने में आसानी हो जाएगी और बाजार की डिमांड के अनुरूप आप अपने products का निर्माण भी अच्छे से कर पाएंगे।

आशा है आपको इस लेख एक्टिवेटेड चारकोल बनाने का बिजनेस (Business to make activated charcoal)’ से क्लीनिंग उद्योग आधारित उद्यम, व्यवसाय, बिजनेस और कारोबार के बारे में विस्तृत जानकारी जरूर मिली होगी, साथ ही।।। यदि कुछ छूट गया हो या कुछ पूछना चाहते हों तो कृपया comment box में जरूर लिखें। तब तक के लिए-

“शुभकामनाएं आपके कामयाब और सफल व्यापारिक भविष्य के लिए।” 

धन्यवाद!

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular