Product ManufacturingGold Plated Jewellery (आभूषण) बनाने का बिजनेस

Gold Plated Jewellery (आभूषण) बनाने का बिजनेस

Gold Plated Jewellery business idea: यदि आप एक ऐसे profitable business ideas की तलाश कर रहे हैं जिसे पार्ट टाइम अथवा फुल टाइम दोनों तरीको से किया जा सकता हो, तो gold plated jewellery जैसा business idea आपके लिए एक शानदार विकल्प साबित हो सकता है. इसके साथ ही gold plated jewellery जैसे business को आप एक छोटी से जगह (घर) से भी आसानी से शुरू कर सकते हैं.

आप जानते ही हैं कि मौजूदा दौर लगातार बदलते फैशन का दौर है, ऐसे में सुरक्षा की दृष्टी से अधिकतर लोग original gold आभूषण के स्थान पर gold plated jewellery जैसे- gold plated bangles, gold plated chain, gold plated earrings, gold plated necklace, gold plated bracelet, gold plated anklets व gold plated mangalsutra आदि का उपयोग करना ज्यादा पसंद करते हैं.

Gold-Plated-Jewellery-making-business-idea

Gold plated jewellery कीमत में सस्ती होने के साथ लम्बे समय तक टिकाऊ भी बनी रहती है, जिस कारण इसकी मांग लगातार बढ़ती ही जा रही है, और आने वाले समय में हमेशा बनी ही रहने वाली है.

Gold plated jewellery निर्माण के क्षेत्र में आने से पहले यह जरूरी है कि gold plated jewellery business plan को गहनता से समझना जरूरी है, क्योंकि व्यवसाय का पहला चरण ही होता है, business की ग्रोथ और रिस्क का आंकलन करना.

आइये जानते हैं gold plated jewellery business का startup करने के लिए आपको/इच्छुक उद्यमी को किन-किन घटकों, तथ्यों व मशीनों व पंजीकरण की आवश्यकता होगी? साथ ही इस बिजनेस की शुरुआत करने व बिजनेस का विस्तार करने के लिए आपको किस प्रकार की रणनीति बनाने की आवश्यकता है. पर इससे पहले हम आगे बढ़ें, आइये जानते हैं कि-

Gold plated jewellery क्या होती है?

सोने के अलावा अन्य किसी भी ठोस धातु से बने आभूषण पर सोने के पानी की परत चढ़ाने को गोल्ड प्लेटिंग (gold plating) कहा जाता है, तथा जिस आभूषण पर सोने की परत चढ़ाई जाती है, उसे ही Gold plated jewellery कहा जाता है.

आइये अब जानते हैं इस बिजनेस को शुरू करने के लिए क्या-क्या करना जरूरी है-

वांछित स्थान-

Gold plated jewellery का निर्माण करने के लिए कोई विशेष बड़े स्थान की आवश्यकता नहीं होती, इस बिजनेस को व्यवसायिक स्तर पर आप अपने घर के एक छोटे से कमरे से भी आसानी से शुरू कर सकते हैं. यदि घर पर स्थान उपलब्ध नहीं है तो 10 X 10 फुट का स्थान स्थानीय मार्केट में देख सकते हैं.

आवश्यक मशीनरी व उपकरण-

व्यवसायिक स्तर पर गैर सोने का आभूषणों को सोने के रंग जैसा (Gold plated) बनाने के लिए सबसे पहले gold को तरल में केमिकल्स की सहायता से बदला जाता है, इसके बाद “इलेक्ट्रोप्लेटिंग (Electroplating)” प्रक्रिया की जाती है, यह प्रक्रिया मशीन व सम्बंधित उपकरणों से की जाती है. जो हैं-

  1. Air coated metal rectifier 0.6V and 0.5 amps
  2. PVC/Fiber/S.Steel coated tank for Gold Plating with anode and cathode rolls
  3. Acid pickling tank MS line welded (2X2X2 inches)

नोट- बताई मशीन की कीमत आप indiamart की वेबसाइट से ले सकते हैं. चूंकि मार्केट एक परिवर्तनीय घटक है, इसलिए कीमत के ब्यौरे का उल्लेख यहाँ नहीं किया गया है.

Gold plated jewellery बनाने के लिए आवश्यक केमिकल्स-

व्यवसायिक स्तर पर Gold plated jewellery बनाने के लिए नीचे दिए गये केमिकल्स का उपयोग किया जाता है-

  1. Gold cyanide salt
  2. De-greasing Salt
  3. HCL
  4. H2SO4
  5. Potassium cyanide
  6. Buffing & Polishing abrasives
  7. Gold anode (99.99% pure gold plate)

नोट-

  1. बताए गए सभी केमिकल्स व मशीन को आप अपने स्थानीय केमिकल्स मार्केट अथवा ऑनलाइन indiamart की वेबसाइट से ले सकते हैं. चूंकि मार्केट एक परिवर्तनीय घटक है, इसलिए कीमत के ब्यौरे का उल्लेख यहाँ नहीं किया गया है.
  2. यदि आप घर से अपने कारोबार की शुरुआत कर रहे हैं, तो कार्यस्थल को अनचाहे लोगों व छोटे बच्चो की पहुँच से सुरक्षित करना जरूरी है. इलेक्टोप्लेटिंग में जिन केमिकल्स का इस्तेमाल किया जाता है, वे सभी खतरनाक केमिकल्स की श्रेणी में आते हैं.

इसे भी पढ़ें- आटे का व्यवसाय कैसे शुरू करें

Gold-Plated-jeweller-business-idea-hindi

व्यवसाय का पंजीकरण-

किसी भी व्यवसाय/कारोबार को शुरू करने से पहले एक उद्यमी को अपने business firm का पंजीकरण कराना अनिवार्य है, क्योंकि किसी भी व्यापार को शुरू करने के लिए पहला मानक पंजीकरण या रजिस्ट्रेशन लेना है. पंजीकरण के बाद ही आप अपने उत्पाद का प्रचार मार्केट/बाजार में कर सकते हैं.

Gold plated jewellery बनाने का कारोबारी पंजीकरण कराने के लिए आपको सबसे पहले अपनी कम्पनी या फर्म के नाम से एक बैंक खाता खोलना होता है, इसके बाद आपको टैक्स आदि के लिए GST No. भी लेना अनिवार्य है, उत्पाद की गुणवत्ता के लिए ISO Certification भी करा सकते हैं. इन पंजीकरणों के बाद भी ….. आपको

  1. ROC के तहत shop license
  2. ट्रेड व ट्रेडमार्क लाइसेंस के साथ
  3. जिले या राज्य के प्रदूषण विभाग से NOC (No Objection Certificate) लेना होता है.

Gold plated jewellery की मार्केटिंग-

Gold plated jewellery तैयार हो जाने के बाद सबसे अहम काम होता है अपने उत्पाद की मार्केटिंग (Product Marketing) करना। इसके लिए सबसे अच्छा तरीका यह है कि आप अपने लोकल सोनार की दुकानों, कॉस्मेटिक दुकानों, बैंगल्स स्टोर्स, beauty parlors व फोटोग्राफ स्टूडियो आदि से संपर्क करें, साथ ही लोकल बाजार के कई स्थानों पर पोस्टर आदि चस्पा करवा सकते हैं,

यदि आप छोटे स्तर पर अपने व्यापार शुरू कर रहे हैं तो प्रचार के लिए आप अखबार में पैम्पलेट (सीमित क्षेत्र तक) भी डलवाकर प्रचार कर सकते हैं. इसके साथ ही जैसे-जैसे आपका कारोबार बढ़ता जाए आप और बड़े स्तर के विज्ञापन (अखबार पृष्ठ, पत्रिका पृष्ठ और digital marketing) का भी सहारा ले सकते हैं।

Gold plated jewellery जैसे business की ग्रोथ बढ़ाने के लिए ऑनलाइन/डिजिटल मार्केटिंग जैसा उपक्रम सबसे असरदार माना जाता है, जिसमें बहुत थोड़े से निवेश से बहुत ही अच्छा मुनाफा बड़ी ही आसानी से बनाया जा सकता है. Online तरीके से अपने बिजनेस का विस्तार करने के लिए आपको एक वेबसाइट डिजाइन करनी या करवानी होगी, एक वेबसाइट बनाने या बनवाने का सालाना खर्च लगभग 10,000 से 25,000 तक आ सकता है.

इसके अलावा आप e-commerce जैसी वेबसाइटों जैसे- amazon, flipkart आदि पर भी अपने product को list करके भी उत्पाद की बिक्री बढ़ा सकते हैं.

उत्पाद का मूल्य निर्धारण (Price Determination)-

एक नए उत्पाद को बाजार में बेचने के लिए सबसे अहम भूमिका निभाता है उसका मूल्य और यह बात सार्वभौम सत्य है कि आज जिस तरह से मंहगाई बढ रही है, उसे ध्यान में रखते हुए आपको अपने उत्पाद का मूल्य इतना रखना चाहिए, जिसे समाज का हर वर्ग आसानी से खरीद सके.

इसलिए बाजार और मंहगाई को देखते हुए आप अपने उत्पाद का मूल्य बाजार में मौजूद अन्य उत्पादों की अपेक्षा कुछ कम ही रखें लेकिन उत्पाद की गुणवत्ता से कोई समझौता न करें, बेहतरीन गुणवत्ता के कारण लोगों/ग्राहकों/उपभोक्ताओं का भरोसा आपके उत्पाद के प्रति बढ़ता जाएगा, जो आपके कारोबार की नई संभावनाएं और सीमाएं तय का सकता है साथ ही भविष्य में लाभकारी परिणामों वाला भी साबित हो सकता है.

सुझाव- कम मूल्य पर उत्पाद बेचने की शुरुवात आपको अपने लोकल मार्केट से ही करनी चाहिए।

Gold plated jewellery का मूल्य कैसे निर्धारित किया जाता है?

अमूमन इलेक्ट्रोप्लेटिंग प्रक्रिया (electroplating process) द्वारा तैयार की गई gold plated jewellery का मूल्य निर्धारित करने के लिए घटकों का मूल्यांकन किया जाता है-

1. परत चढाने के लिए सोने का मूल्य (अधिकतम 1.5 ग्राम सोना)
2. वांछित धातु की ज्वेलरी का मूल्य
3. ज्वेलरी पर की गई कारीगरी का मूल्य
4. इलेक्ट्रोप्लेटिंग प्रक्रिया पर आने वाला खर्च
5. ज्वेलरी पर नग आदि का मूल्य

व्यवसाय के लिए लोन (Loan)-

लघु उद्योग को बढ़ावा देने के लिए भारत सरकार ने मेक इन इण्डिया के तहत प्रधानमंत्री रोजगार योजना, कौशल विकास योजनामुद्रा लोन योजना आदि के माध्यम आपको आसानी से ऋण/लोन मिल सकता है. इसके लिए आपको अपनी कंपनी या फर्म के पंजीकरण संख्या से सरकारी योजनाओं के तहत आवेदन करना होगा.

सरकारी योजनाओंके तहत लघु उद्योग हेतु ऋण/लोन लेने के लिए आप अपने क्षेत्रीय या स्थानीय सरकारी बैंक की शाखा से आवशयक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं.

व्यापार के बिल व ब्यौरा तैयार करना-

अधिकतर नए व्यापारी नया व्यापार शुरू तो कर देते हैं लेकिन लागत के रूप में खर्चे गए पैसों का हिसाब सही ढंग से नहीं रखते, जो कि एक उभरते हुए व्यापारी के लिए अच्छी बात नहीं है. आज के इस डिजिटल ज़माने में अपने खर्चों को सूचीबद्ध करना बहुत ही आसान है. इसके लिए आज ढेरों software और application मौजूद हैं. 

यदि आप एक smart phone अपने पास रखते हैं तो Google play store पर billing और accounting से जुडी ढेरो application मौजूद हैं. आप उनमें से किसी एक उपयोग कर सकते हैं. इन application में आप अपने तैयार समान के बिल बनाने से लेकर अपनी लागत का ब्यौरा भी सुरक्षित रख सकते है, और इससे आपको पता रहेगा कि आपने अपने बिजनेस में अब तक कुल कितनी लागत लगाई है और कितना मुनाफा कमाया.

Gold-Plated-items-making-business-idea

बिजनेस की लागत-

Gold plated jewellery बनाने का बिजनेस शुरू करने के लिए इच्छुक उद्यमी/कारोबारी को छोटे स्तर पर कम से कम 50,000 से 02 लाख (GST extra) रूपये की धनराशी का निवेश करना संभावित होता है. निवेश की यह लागत मशीन व रॉ मटेरियल के चुनाव पर घट अथवा बढ़ सकती है.

यदि आप Gold plated jewellery/Artificial jewellery बनाने के बिजनेस में आने इच्छुक हैं तो आपने YouTube पर ढेरों वीडियो को खंगाला जरूर होगा, जहां पर कुछ लोग आधी-अधूरी जानकारी देकर नए उद्यमियों को बरगलाने का काम करते हैं, जिससे हो सकता है कि आपको अभी भी संतुष्टि नहीं मिल पाई हो… खैर….

यदि आप आभासी स्वर्ण आभूषण (gold plating) निर्माण के कारोबार में या किसी भी बिजनेस में अपना भविष्य बनाना चाहते हैं तो सबसे पहले आप वांछित बिजनेस की समस्त जानकारी जरूर हांसिल करें, जिससे भविष्य में आपको जोखिमों का सामना न के बराबर करना पड़े.

व्यवसाय में मुनाफा (Business Profits)-

मुनाफा! जो हर एक उद्यमी और कारोबारी को सबसे उच्च स्तर का प्राप्त करने की अभिलाषा होती है, मौलिक तौर पर मुनाफा शब्द एक ऐसा शब्द है जो हर किसी को एक नई प्रेरणा (Inspiration) देता है. 

Gold plated jewellery/Artificial jewellery हमेशा भारी डिमांड में रहने वाला बिजनेस है, इस बिजनेस में मुनाफा सोने के भाव व ग्राहक के रुतबे के मुताबिक घटता-बढ़ता रहता है. गिरी से गिरी हालत में हर एक Gold plated jewellery items/products पर कम से कम लागत का 03 गुना मुनाफा सरलता से बनाया जा सकता है.

इसके अलावा जैसे-जैसे आपके निर्मित उत्पाद की खपत का दायरा बढता है आपका मुनाफा भी गुणन के आधार पर बढ़ता जाता है, छोटे स्तर पर भी आप Gold plated jewellery के कारोबार से 50,000 से लेकर 02 लाख रुपए या इससे भी ऊपर हर महीने कमा सकते हैं. 

1 gram gold plating का क्या मतलब होता है?

मौजूदा मार्केट में 01 gram और 1.5 gram gold plated artificial jewellery का चलन बहुत हद तक बढ़ चुका है. इस 01 gram gold plated jewellery को तैयार करने में 01 gram gold तथा 1.5 gram में 1.5 gram gold (सोने) का उपयोग किया गया है.

1 gram gold plated jewellery में कितना gold होता है?

01 gram gold plated jewellery को तैयार करने में 01 gram संख्या उपयोग किये गए खरे सोने की मात्रा को प्रदर्शित करता है, जबकि 1.5 gram में 1.5 gram खरे सोने की मात्रा को प्रदर्शित करता है.

मौजूदा समय में कौन सी धातुओं की सबसे अधिक gold plating की जाती है?

यह पूरी तरह से मार्केट डिमांड पर निर्भर करता है. अमूमन सोनार/सर्राफा कारोबारी प्रारंभिक स्तर पर चांदी, तांबा, पीतल व गीलठ/कांसा (मिश्र धातु) जैसी घातुओं का उपयोग करते हैं.

अंत में-

हमारा उद्देश्य उन इच्छुक उम्मीदवारों, उद्यमियों, व्यवसायियों, व्यापारियों और कारोबारियों को बेहतर से बेहतर जानकारी प्रदान करना है, जो electroplating jewellery को करने के इच्छुक हैं और इस बिजनेस में अपना भविष्य में देख रहे हैं.

नोट किसी भी बिजनेस को शुरू करने से पहले बाजार/मार्केट रिसर्च एवं खपत का आंकलन अनिवार्य रूप से अवश्य करें. ऐसा करने से आपको बिजनेस में आने वाले जोखिम और दिक्कतों का सामना करने में आसानी हो जाएगी और बाजार में डिमांड के अनुरूप आप अपने products का निर्माण भी अच्छे से कर पाएंगे.

आशा है आपको इस लेख ‘Gold plated jewellery बनाने का बिजनेस’ कैसे शुरू करें से gold plating/artificial jewellery making business/बिजनेस, व्यापार व कारोबार के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी जरूर मिली होगी, साथ ही… यदि कुछ छूट गया हो या कुछ पूछना चाहते हों तो कृपया comment box में जरूर लिखें. लेख अच्छा लगा हो तो इसे share अवश्य करे, अभी तक के लिए इतना ही-

शुभकामनाएं आपके सफल व्यापारिक भविष्य के लिए

धन्यवाद!

जय हिंद! जय भारत!

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular