Product Manufacturingघर से शुरू करें लिक्विड डिटर्जेंट बनाने का व्यवसाय | How to...

घर से शुरू करें लिक्विड डिटर्जेंट बनाने का व्यवसाय | How to Start Liquid Detergent making Business in Hindi

लिक्विड डिटर्जेंट बनाने का व्यवसाय (Liquid Detergent making Business), लिक्विड डिटर्जेंट बनाने की प्रक्रिया, how to manufacture liquid detergent, लिक्विड डिटर्जेंट व्यवसाय में मशीनरी, व्यवसाय का पंजीकरण, Product की मार्केटिंग, Total cost & Profits

बदलते परिवेश में आज जैसे-जैसे लोग स्वच्छता के प्रति जागरूक हो रहे हैं वैसे-वैसे स्वच्छता उत्पादों की मांग बाजार/मार्किट में बढ़ती जा रही है.  लिक्विड डिटर्जेंट! मौलिक तौर पर कपड़ों की स्वच्छता या कपड़ों को स्वच्छ करने के लिए प्राथमिकता पर उपयोग किया जाता है, शहरी आबादी का लगभग प्रत्येक घर लिक्विड डिटर्जेंट जैसे उत्पाद को अच्छे से जनता है.

बाजार में बढ़ती मांग व खपत का आंकलन करने पर यह बिल्कुल स्पष्ट हो जाता है कि लिक्विड डिटर्जेंट बनाने का व्यवसाय (Liquid Detergent Manufacturing Business), लम्बे समय का उच्च लाभ/मुनाफा देने वाला बिजनेस (Profitable Business) है. और सबसे अच्छी बात यह है कि लिक्विड डिटर्जेंट बनाने के व्यवसाय/उद्यम को इच्छुक उद्यमी अपने घर से भी शुरू कर सकता है.

लिक्विड-डिटर्जेंट-बनाने-का-व्यवसाय-Liquid-Detergent-making-Business

लिक्विड डिटर्जेंट को घर पर भी आसानी से और कम कीमत पर बनाया जा सकता है.  आज इस पोस्ट के माध्यम से हम आपके लिए लिक्विड डिटर्जेंट से जुडी समस्त जानकारियों को लेकर आए हैं. जहां आप लिक्विड डिटर्जेंट बनाना सीख कर अपना खुद का व्यवसाय भी शुरू कर सकते/सकती है.

देखा जाए तो आज जिस तरह बीमारियों और महामरियों का खतरा बढ़ रहा है, स्वच्छता उत्पाद जैसे- लिक्विड डिटर्जेंट का व्यवसाय लगाना अथवा शुरू करना एक फायदे का विकल्प साबित हो सकता है. आप भी अपने ब्रांड के लिक्विड डिटर्जेंट को आसानी से बनाकर बहुत ही कम लागत में तैयार कर सकते/सकती हैं.

साथ ही अपने उत्पाद को थोक व खुदरा बाजार में बेच कर अच्छा मुनाफा या लाभ कमा सकते/सकती है. तो चलिए शुरू करते हैं आज की चर्चा- लिक्विड डिटर्जेंट के व्यवसाय या कारोबार को शुरू करने के लिए किन-किन चीजों/ रॉ मटेरियल की जरूरत होती है और कैसे लिक्विड डिटर्जेंट आसानी से घर पर या फिर बड़े स्तर पर बनाया जाता है, इसकी पूरी जानकारी इसी पोस्ट में दी गई है-

Table of Content

घर पर लिक्विड डिटर्जेंट बनाने के लिए रॉ मटेरियल (Raw Material)-

यदि आप अपने घर पर लिक्विड डिटर्जेंट बनाने का व्यवसाय शुरू करना चाहते/चाहती हैं तो आपको नीचे दिये गए इन रॉ मटेरियल या कच्चे माल की जरूरत होगी, हमारे द्वारा यह जो पद्धति (recipe) बताई जा रही है वह 10 लीटर लिक्विड डिटर्जेंट बनाने की विधि या पद्धतिहै जो पूर्णत: हाथों से निर्मित की जाती है। इसके रॉ मटेरियल या कच्चे माल इस प्रकार है-

  1. Normal Clean Water- 08 Liter
  2. Acid Slurry– 01 liter (थोक मूल्य- 55 रुपए प्रति लीटर से शुरू)
  3. Lye Water- 600 Grams
  4. Caustic Soda-Flakes (NaOH)- 200 Gram (थोक मूल्य- 50 रुपए प्रति लीटर से शुरू)
  5. Distilled Water- 400 Gram (थोक मूल्य- 6 रुपए प्रति लीटर से शुरू)
  1. Citric Acid- 13 to 15 Grams (थोक मूल्य- 40 रुपए प्रति किलोग्राम से शुरू)
  2. Tri Sodium Phosphate (TSP)- 450 Grams (थोक मूल्य- 32 रुपए प्रति किलोग्राम से शुरू)
  3. Normal Salt/G-Salt- Approx. 100 Grams (थोक मूल्य- 20 रुपए प्रति किलोग्राम से शुरू)
  4. Water Soluble Urea- 350 Grams (थोक मूल्य- 20 रुपए प्रति किलोग्राम से शुरू)
  5. Transparent Sodium Lauryl Ether Sulphate (SLES) 28% Liquid- 250 ml (थोक मूल्य- 48 रुपए प्रति लीटर से शुरू)
  6. Tinopal (Brightener)- 10 Grams (थोक मूल्य- 250 रुपए प्रति किलोग्राम से शुरू)
  7. CBS-X Powder- 10 Grams (थोक मूल्य- 1800 रुपए प्रति 50 किलोग्राम से शुरू)
  8. Natural Water Base Color- 2 Grams व इच्छानुसार (थोक मूल्य- 8 रुपए प्रति डिब्बी)
  9. Water Base Fragrance or Perfumes– Approx. 10-16 ml (थोक मूल्य- 210 रुपए प्रति लीटर से शुरू)
  10. 15 लीटर क्षमता का Plastic बर्तन (बाल्टी/ड्रम) (थोक मूल्य- 40 रुपए से शुरू)
  11. लकड़ी या प्लास्टिक के 02 बड़े चम्मच/छड़ी (मूल्य- 40 रुपए प्रति पीस से शुरू)

नोट- सामग्री की यह कीमत समय-समय पर बाजार में उतार-चढ़ाव के कारण घट-बढ़ सकती है। यदि आपके लोकल मार्केट में यह रॉ मटेरियल नहीं मिल पा रहा है तो इसे आप ऑनलाइन भी आर्डर दे सकते/सकती हैं। इसके लिए आप इन वेबसाइट्स की मदद ले सकते/सकती है-

  1. www.indiamart.com 
  2. www.amazon.com या फिर
  3. आप जिसे जानते हैं वहाँ से ऑर्डर दे सकते/सकती हैं।

आवश्यक सुरक्षा उपकरण (Safety Equipment)-

लिक्विड डिटर्जेंट बनाने की प्रक्रिया को शुरू करने से पूर्व हमें अपनी त्वचा और शारीरिक अंगो आदि की सुरक्षा के लिए कुछ सुरक्षा उपकरण पहनने होते हैं क्योंकि लिक्विड डिटर्जेंट बनाते समय यदि मिश्रण छलक कर शरीरिक अंगो व त्वचा आदि के संपर्क में आता है तो एलर्जी, जलन, खुजली के लक्षण दिख सकते हैं. इसलिए सुरक्षा उपकरण अनिवार्य रूप से पहनना जरूरी है. ये सुरक्षा उपकरण हैं-

  1. Eye Protection Spectacles (पारदर्शी चश्मे)
  2. Thick Hand Gloves (रबर के मोटे दस्ताने)
  3. Face Mask (चेहरे को सुरक्षा के लिए मास्क) और
  4. Rubber Boots (रबर के जूते)

छोटे स्तर पर लिक्विड डिटर्जेंट बनाने की विधि (Liquid Detergent Making Process at small scale)-

छोटे स्तर पर हाथों से बनाए जाने वाले लिक्विड डिटर्जेंट की विधि को … चरणों में पूरा किया जाता है। ऊपर बताए गए रॉ मटेरियल से जो लिक्विड डिटर्जेंट बनता है वह सबसे उत्तम गुणवत्ता (High Quality) का होता है, तो चलिये शुरू करते हैं-

पहला चरण-

पहले चरण में आपको अपनी सुरक्षा के लिए सुरक्षा उपकरण जैसे- रबर दस्ताने, मास्क, चश्मे व जूते आदि को पहनना अनिवार्य है, ये सुरक्षा उपकरण ऊपर बताए जा चुके हैं।

दूसरा चरण-

  • दूसरे चरण की शुरुवात में सबसे पहले प्लास्टिक ड्रम या बाल्टी को लेना है (यह पात्र बिल्कुल साफ होना चाहिए)
  • इसके बाद इसमें 08 लीटर साधारण पीने योग्य साफ पानी भरना है।
  • इसके बाद इस पानी में 01 लीटर एसिड स्लरी को अच्छे से लकड़ी या प्लास्टिक छड़ी के माध्यम से घोल देना है,
  • एसिड स्लरी के घुल जाने के बाद इसमें 500 ग्राम lye water को धीरे-धीरे अच्छे से लकड़ी या प्लास्टिक छड़ी के माध्यम से घोलना है।
  • इसके बाद आपको इस मिश्रण का pH लेवल चेक करना है, आदर्श pH लेवल 9 है। यदि आपके मिश्रण में pH लेवल का मान 9 से अधिक है तो इसमें बचे हुए 100 ग्राम lye water व citric एसिड की सहायता से धीरे-धीरे मिलाकर pH लेवल को संतुलित कर लेना है। वही यदि pH लेवल का मान 9 से कम है तो थोड़ी एसिड स्लरी मिलाकर pH लेवल को संतुलित कर लेना है।
  • pH लेवल संतुलित हो जाने के बाद इस मिश्रण में Tri Sodium Phosphate (TSP) को धीरे-धीरे डालते हुए मिलना है.
  • इसके बाद इसमें Water Soluble Urea और फिर Normal Salt/G-Salt को मिश्रण में डालकर लगभग 10 मिनट तक अच्छे से मिलाना है।
  • Water Soluble Urea और Normal Salt/G-Salt के अच्छे से मिल जाने के बाद मिश्रण में Transparent Sodium Lauryl Ether Sulphate (SLES) 28% Liquid को मिलना है।
  • इसके बाद मिश्रण में Tinopal (Brightener) और CBS-X Powder को डालकर लगभग यदि आप बिना मशीनरी के बना रहे/रही हैं तो 25 से मिनट तक वही यदि मशीनरी से बना रहे/रही हैं तो 20 मिनट तक मिलाना है।
  • अब इस लिक्विड डिटर्जेंट के मिश्रण को 18 से 24 घंटों के लिए ढक कर छोड़ दें, 24 घंटों तक छोड़ने से लिक्विड डिटर्जेंट का मिश्रण पूरी तरह से ठंडा और एक समान हो जाता है।
  • 24 घंटों बाद लिक्विड डिटर्जेंट के मिश्रण में पहले Natural Water Base Color रेसिपी के हिसाब से या इच्छानुसार रंग डालकर 02 मिनट तक मिलाना है।
  • इसके बाद आखिर में इस मिश्रण में Water Base Fragrance or Perfumes को रेसिपी हिसाब से या इच्छानुसार मात्रा को 03 से 05 तक अच्छे से मिक्स करना है। आपका लिक्विड डिटर्जेंट बनकर तैयार हो चुका है।

नोट हाथों से लिक्विड डिटर्जेंट बनाने के लिए पूरे मिश्रण को लगभग 60 से 80 मिनट तक अच्छे से मिलाना होता है।

तीसरा चरण-

तीसरे चरण में लिक्विड डिटर्जेंट को बाज़ार मांग के आधार (On demand) पर (100 ml से 1 लीटर के पैकेट/पाउच या बोतल में) एक सुंदर पैकिंग में पैककर थोक/खुदरा बिक्री के लिए भेज सकते/सकती हैं। यह लिक्विड डिटर्जेंट सबसे उच्च गुणवत्ता का है जो बाजार में उपलब्ध किसी भी नामी लिक्विड डिटर्जेंट उत्पाद के समकक्ष या उससे ऊपर हो सकता है।

छोटे स्तर पर लिक्विड डिटर्जेंट का व्यवसाय शुरू करने में पैकेट/पाउच आदि की पैकिंग के लिए हीट सीलिंग मशीन और बोतल ढक्कन सील करने के लिए Bottle Capping Machine के अलावा अन्य कोई मशीनरी की अवश्यकता नहीं पड़ती है। यदि आप अपने घर से लिक्विड डिटर्जेंट व्यवसाय में उतरना चाहते हैं तो यह तरीका आपके लिए एक अच्छा विकल्प साबित हो सकता है।

  1. Heat Sealing Machine (कीमत- 1,200 रूपए से शुरू)
  2. Bottle Capping Machine (कीमत- 22,000 रूपए से शुरू)

उपरोक्त मशीनरी को आप अपने लोकल मार्केट से ले सकते/सकती हैं यदि लोकल बाजार में यह मशीने नहीं मिल पा रही हैं तो इस आप ऑनलाइन भी नीचे दी गई वेबसाइटस पर खोज सकते/सकती हैं-

  • www.indiamart.com 
  • www.amazon.com या फिर
  • आप जिसे जानते हैं वहाँ से ऑर्डर दे सकते/सकती हैं।

नोट- उपरोक्त विधि या पद्धति (method) के अलावा लिक्विड डिटर्जेंट बनाने की अन्य विधियां भी हो सकती हैं।

मध्यम स्तर पर लिक्विड डिटर्जेंट व्यवसाय शुरू करने के लिए जरूरी मशीनरी (Machinery for Making Liquid Detergent)-

यदि आप लिक्विड डिटर्जेंट के व्यवसाय को मध्यम स्तर पर शुरू करना चाहते/चाहती हैं तो मध्यम स्तर पर लिक्विड डिटर्जेंट की Manufacturing यूनिट लगाने के लिए इन मशीनों की आवश्यकता होती है-

  1. Liquid Detergent Making Machine– (कीमत- 19,000 रुपए से शुरू) इस मशीन में लिक्विड डिटर्जेंट का निर्माण करने वाले रॉ मटेरियल को एक-एक कर आपस में मिक्स या मिलाया जाता है।
  2. Filling Machine- (कीमत- 25,000 रुपए से शुरू) इस मशीन की सहायता से एक निश्चित मात्रा में बोतल व पैकिंग आदि में fill या भरा जाता है।
  3. बोतल कैप और पाउच  सीलिंग मशीन (Sealing Machine)– (कीमत- 12,500 रुपए से शुरू) यह मशीन लिक्विड डिटर्जेंट को प्लास्टिक पाउच व बोतल के ढक्कन आदि को सील करने का काम करती है।

नोट- इन मशीनों का चुनाव आप अपने व्यवसायिक उत्पादन और कार्य क्षमता के आधार पर करें। यह तीनों मशीन ऑटोमेटिक और सेमी-ऑटोमेटिक दोनों वेरियंट में आती है।

सुरक्षा उपकरण (Safety Equipment)-

मशीनों द्वारा लिक्विड डिटर्जेंट बनाते समय कच्चा माल छलक सकता है, जिससे बचने के लिए आपको सुरक्षा उपकरण पहनना अनिवार्य है, सुरक्षा उपकरणों का उल्लेख ऊपर किया जा चुका है।

मशीनरी की सहायता से लिक्विड डिटर्जेंट बनाना (Process of making liquid detergent from machinery)-

रॉ मटेरियल अंतर्गत जो सामग्री मात्रा बताई गई है उसे अनुपात/गुणन के आधार पर बढ़ाकर ऊपर बताई गयी विधिनुसार मिक्सर मशीन में एक-एक कर डालते जाएं, मिक्सर मशीन में सारे रॉ मटेरियल को लगभग 45 मिनट तक मिलाए, 45 मिनट तक मिलाने के बाद इस मिश्रण को 24 घंटो के लिए ढककर छोड़ दें,

24 घंटो बाद मिश्रण एक समान और ठंडा हो जाएगा फिर इसमें पहले रंग डालकर 2 मिनट मिलाएं और आखिर में perfume डालकर लगभग 2 से 2.30 मिनट तक और मिलाएं, इसके बाद इस मिश्रण को पैकिंग में पैक कर सकते/सकती है. अब आपका लिक्विड डिटर्जेंट बाजार/मार्केट में जाने के लिए पूरी तरह से तैयार है।

बड़े स्तर पर लिक्विड डिटर्जेंट व्यवसाय शुरू करने के लिए जरूरी मशीनरी (Machinery for Big Scale Manufacturing of Liquid Detergent)-

यदि आप लिक्विड डिटर्जेंट के कारोबार को बड़े स्तर पर शुरू करना चाहते/चाहती हैं और आपके पास लिक्विड डिटर्जेंट व्यवसाय में निवेश के लिए पर्याप्त पैसा भी है तो आप लिक्विड डिटर्जेंट व्यवसाय का पूरा setup लगाकर अपना कारोबार शुरू कर सकते/सकती हैं। पूरे setup की कीमत 3.50 लाख से शुरू होकर 07 लाख रूपए तक आ सकती है.

नोट- इस लेख में बताई गई उपरोक्त सामग्री व मशीनरी की कीमत समय-समय पर बाजार के उतार-चढ़ाव के कारण घट-बढ़ सकती है।

लिक्विड डिटर्जेंट व्यवसाय शुरू करने के लिए वांछित स्थान (Required Place)-

  • बड़े स्तर पर (Big Scale)बड़े स्तर पर लिक्विड डिटर्जेंट की Manufacturing शुरू करने के लिए कम से कम 2,000 वर्ग फुट के स्थान या जगह की जरूरत होती है, जहां सभी आवश्यक मशीनरी को इन्स्टाल करना, रॉ मटेरियल और तैयार उत्पाद/माल को सुरक्षित रखने का स्थान सुनिश्चित किया गया हो। साथ आपके कार्य स्थल में बिजली आदि की उचित व्यवस्था का होना अनिवार्य है।
  • मध्यम स्तर पर (Medium Scale)मध्यम स्तर पर लिक्विड डिटर्जेंट की Manufacturing शुरू करने के लिए कम से कम 700 से 1,000 वर्ग फुट के स्थान या जगह की जरूरत होती है. साथ आपके कार्य स्थल में बिजली आदि की उचित व्यवस्था का होना अनिवार्य है।
  • छोटे स्तर या घर से (Small Scale)– छोटे स्तर या घर से लिक्विड डिटर्जेंट की Manufacturing शुरू करने के लिए कम से कम 60 से 80 वर्ग फुट के स्थान या जगह की जरूरत होती है. जहां लिक्विड डिटर्जेंट की सारी Manufacturing हाथों से की जाती है.

सुझाव-

आपको लिक्विड डिटर्जेंट बनाने की (Liquid Detergent Manufacturing) शुरूआत करने के लिए ऐसे स्थान का चुनाव करना चाहिए जो प्रदूषण, बारिस और नमी आदि घटकों से सुरक्षित हो। इससे लिक्विड डिटर्जेंट बनाने के कच्चे माल या रॉ मटेरियल के खराब होने की संभावना कम या समाप्त हो जाएगी।

लिक्विड डिटर्जेंट की पैकिंग तैयार करना (Preparation of packaging of Liquid Detergent)-

एक शानदार और सुन्दर पैकिंग किसी भी ग्राहक को अपनी ओर आकर्षित कर सकती है और उस पर यदि उत्पाद उच्च गुणवत्ता का हो सोने पर सुहागा हो जाता है. किसी भी Product की पैकिंग उसके ब्रांड वैल्यू को बनाने और बढ़ाने का काम करती है. लिक्विड डिटर्जेंट की पैकिंग दो तरीके से होती है-

  1. पाउच में (जिसे आप लोकल मार्केट प्रिंटर्स/मुद्रक से या ऑनलाइन भी खरीद सकते/सकती हैं.)
  2. बोतल में (जिसे आप लोकल मार्केट या ऑनलाइन भी खरीद सकते/सकती हैं या फिर आर्डर देकर बनवा सकते हैं)

पैकिंग की डिजाइन के लिए किसी जानकार ग्राफिक्स डिजाइनर की सहायता जरूर लें। साथ ही उत्पाद बनाने में उपयोग किए गए घटकों का उल्लेख उत्पाद की पैकेजिंग पर अनिवार्य रूप से करें।

लिक्विड डिटर्जेंट की बोतल स्टीकर व पाउच पैकिंग बनवाने के लिए आप सबसे पहले अपने क्षेत्रीय प्रिंटर्स/मुद्रक से संपर्क करें, यदि आपके क्षेत्र में प्रिंटिंग व डिज़ाइनिंग आदि का काम नहीं होता है तो पैकिंग बनवाने के लिए आप इंटरनेट पर मौजूद वेबसाइटो की मदद ले सकते/सकती है.

सुझाव-

लिक्विड डिटर्जेंट व्यापार की शुरुवात आप छोटे/कम मात्रा जैसे- 250 ml से 500 ml से ही शुरू करें. ऐसा करने से आपकी मार्केट समझ बढ़ेगी साथ ही आपको यह भी पता चलेगा कि आपके Product की बाजार में खपत किस स्तर पर हो रही है, खपत का आंकलन कर आप बाजार में बड़े size (1 से 5 लीटर आदि) के प्रोडक्ट या उत्पाद उतार सकते/सकती हैं.

व्यवसाय का पंजीकरण (Business Registration)-

कोई भी व्यवसाय या कारोबार शुरू करने से पहले एक उद्यमी को अपने व्यवसाय या कारोबार की कम्पनी या फर्म का पंजीकरण कराना अनिवार्य है, क्योंकि किसी भी व्यापार को शुरू करने के लिए पहला मानक पंजीकरण या रजिस्ट्रेशन लेना है. पंजीकरण या रजिस्ट्रेशन के बाद ही आप अपने उत्पाद का प्रचार मार्केट/बाजार में कर सकते/सकती हैं.

लिक्विड डिटर्जेंट का कारोबार का पंजीकरण कराने के लिए आपको सबसे पहले अपनी कम्पनी या फर्म के नाम से एक बैंक खाता खोलना होता है, इसके बाद भारत सरकार द्वारा विकसित किये गए उद्यमी पोर्टल MSME पर अपने व्यापार की लागत के अनुरूप सूक्ष्म, मध्यम और लघु उद्योग अंतर्गत किसी एक श्रेणी में पंजीकरण करा सकते/सकती हैं.

साथ ही आपको टैक्स आदि के लिए GST No. भी लेना अनिवार्य है, उत्पाद की गुणवत्ता के लिए ISO Certification भी करा सकते हैं. इन पंजीकरणों के बाद भी ….. आपको

  1. फैक्ट्री लाइसेंस,
  2. ट्रेड व ट्रेडमार्क लाइसेंस के साथ
  3. जिले या राज्य के प्रदूषण विभाग से NOC (No Objection Certificate) लेना होता है.

अपने Product की मार्केटिंग –

Product तैयार हो जाने के बाद सबसे अहम काम होता है अपने उत्पाद के प्रति लोगों को जागरूक करना मतलब अपने उत्पाद की मार्केटिंग (Product Marketing) करना। इसके लिए सबसे अच्छा तरीका यह है कि आप अपने लोकल किराना दुकानों और स्टोर्स के कारोबारियों से संपर्क करें, साथ ही लोकल बाजार के कई स्थानों पर पोस्टर आदि चिपकवा सकते हैं,

चूँकि आपके आस-पास की किराना दुकानें आपको अच्छे से जानते होंगे, जिससे आपके माल के खपत होने कि संभावना बढ़ सकती है। इसके साथ ही होलसेल बाजार के व्यापारियों से भी होलसेल बिक्री हेतु संपर्क कर सकते हैं।

यदि आप छोटे स्तर पर व्यापार शुरू कर रहे/रही हैं तो प्रचार के लिए आप अखबार में पैम्पलेट भी डलवाकर प्रचार कर सकते/सकती हैं। इसके साथ ही जैसे-जैसे आपका कारोबार बढ़ता जाए आप और बड़े स्तर के विज्ञापन (अखबार पृष्ठ, पत्रिका पृष्ठ और digital marketing) का भी सहारा ले सकते हैं।

आप अपने लिक्विड डिटर्जेंट का कारोबार ऑनलाइन भी कर सकते/सकती हैं, जहां आपको एक वेबसाइट डिजाइन करनी या करवानी होगी, एक वेबसाइट बनाने या बनवाने का सालाना खर्च लगभग 10,000 से 25,000 तक आ सकता है।

मूल्य निर्धारण (Price Determination)-

एक नए उत्पाद को बाजार में बेचने के लिए सबसे अहम भूमिका निभाता है उसका मूल्य और यह बात सार्वभौम सत्य है कि आज जिस तरह से मंहगाई बढ रही है, उसे ध्यान में रखते हुए आपको अपने उत्पाद का मूल्य इतना रखना चाहिए, जिसे समाज का हर वर्ग आसानी से खरीद सके.

इसलिए बाजार और मंहगाई को देखते हुए आप अपने उत्पाद का मूल्य बाजार में मौजूद अन्य उत्पादों की अपेक्षा कुछ कम ही रखें लेकिन उत्पाद की गुणवत्ता से कोई समझौता न करें, बेहतरीन गुणवत्ता के कारण लोगों/ग्राहकों/उपभोक्ताओं का भरोसा आपके उत्पाद के प्रति बढ़ता जाएगा, जो आपके कारोबार की नई संभावनाएं और सीमाएं तय का सकता है साथ ही भविष्य में लाभकारी परिणामों वाला भी साबित हो सकता है.

सुझाव- कम मूल्य पर उत्पाद बेचने की शुरुवात आपको अपने लोकल मार्केट से ही करनी चाहिए।

व्यवसाय के लिए लोन (Loan)-

लघु उद्योग को बढ़ावा देने के लिए भारत सरकार ने मेक इन इण्डिया के तहत प्रधानमंत्री रोजगार योजना, कौशल विकास योजना आदि के माध्यम आपको आसानी से ऋण/लोन मिल सकता है. इसके लिए आपको अपनी कंपनी या फर्म के पंजीकरण संख्या से सरकारी योजनाओं के तहत आवेदन करना होगा.

सरकारी योजनाओं के तहत लघु उद्योग हेतु ऋण/लोन लेने के लिए आप अपने क्षेत्रीय या स्थानीय सरकारी बैंक की शाखा से आवशयक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं.

व्यापार के बिल व ब्यौरा तैयार करना-

अधिकतर नए व्यापारी नया व्यापार शुरू तो कर देते हैं लेकिन लागत के रूप में खर्चे गए पैसों का हिसाब सही ढंग से नहीं रखते, जो कि एक उभरते हुए व्यापारी के लिए अच्छी बात नहीं है. आज के इस डिजिटल ज़माने में अपने खर्चों को सूचीबद्ध करना बहुत ही आसान है. इसके लिए आज ढेरों software और application मौजूद हैं. 

यदि आप एक smart phone अपने पास रखते हैं तो Google play store पर billing और accounting से जुडी ढेरो application मौजूद हैं.

आप उनमें से किसी एक उपयोग कर सकते हैं. इन application में आप अपने तैयार समान के बिल बनाने से लेकर अपनी लागत का ब्यौरा भी सुरक्षित रख सकते है, और इससे आपको पता रहेगा कि आपने अपने बिजनेस में अब तक कुल कितनी लागत लगाई है और कितना मुनाफा कमाया.

व्यवसाय में मुनाफा (Business Profits)-

मुनाफा या लाभ जो हर एक व्यवसायी, व्यापारी और कारोबारी को सबसे उच्च स्तर का प्राप्त करने की अभिलाषा होती है, मौलिक तौर पर मुनाफा या लाभ शब्द एक ऐसा शब्द है जो हर किसी को एक नई प्रेरणा (Inspiration) देता है. 

कोरोना काल ने साबुन और स्वच्छता से जुड़े व्यवसायियों के लिए कई लाभ सम्भावनाओं को पैदाकिया है। अमूमन अच्छी गुणवत्ता के लिक्विड डिटर्जेंट पर पैकिंग व मार्केटिंग सहित लागत प्रति लीटर लगभग 37 से 43 रुपए तक आती है जिसे खुदरा मार्केट में 65 से 160 रुपए प्रति लीटर तक बेचा जाता है।

जहां आपका मुनाफा या लाभ 28 से 44 रूपए प्रति लीटर के हिसाब से होता है. जैसे-जैसे आपके उत्पाद की खपत बढती है आपका मुनाफा भी गुणन के आधार पर बढ़ता जाता है, आप लिक्विड डिटर्जेंटके कारोबार से 50,000 से लेकर 80,000 रुपए या इससे भी ऊपर हर महीने कमा सकते हैं. 

FAQ.

लिक्विड डिटर्जेंट में pH का क्या महत्व होता है?

मनुष्य के शरीर का पीएच मान 7.35 – 7.45 के बीच होता है, उपयोग के समय डिटर्जेंट हमारी त्वचा के संपर्क में आता है, इसलिए यह जरूरी है लिक्विड डिटर्जेंट के pH को मानव त्वचा के अनुकूल किया जाए, जिससे उपयोग करने पर यह हमारे त्वचा को नुकसान न पहुचाए.

आदर्श डिटर्जेंट का pH मान कितना होना चाहिए?

डिटर्जेंट सम्बन्धी लगभग सभी उत्पादों का आदर्श pH मान 8 से 9.5 के बीच होना चाहिए. मार्केट में मिलने वाले अधिकतर detergents products की pH value 9 से 10 के बीच होती है.

अंत में-

आज हर मनुष्य अपने कपड़ो को हर हाल में स्वच्छ रखने का प्रयास करता है, क्योंकि साफ और स्वच्छ कपड़े काफी हद तक सामाजिक प्रतिष्ठा के द्योतक के रूप में जाने जाते है.  और जब से महामारियों का दौर शुरू हुआ है तभी से लोगों ने स्वच्छता सम्बन्धी उत्पादों को संजीदगी से लेना शुरू किया है. 

जिस कारण स्वच्छता संबंधी उत्पाद जैसे लिक्विड डिटर्जेंट व अन्य स्वच्छता संबंधी उत्पादों की उपयोगिता और भी बढ़ चुकी है. फलस्वरूप लिक्विड डिटर्जेंट को बनाने के व्यवसाय या कारोबार/उद्यम में नई संभावनाएं पैदा होती जा रही है। जिसके चलते लिक्विड डिटर्जेंट को बनाने का व्यवसाय लगाना एक फायदेमंद विकल्प साबित हो सकता है।

नोट किसी भी व्यवसाय को शुरू करने से पहले बाजार/मार्केट रिसर्च एवं खपत का आंकलन अनिवार्य रूप से अवश्य करें. ऐसा करने से आपको व्यवसाय में आने वाले जोखिम और दिक्कतों का सामना करने में आसानी हो जाएगी और बाजार में डिमांड के अनुरूप आप अपने products का निर्माण भी अच्छे से कर पाएंगे.

आशा है आपको इस लेख ‘कैसे शुरू करें लिक्विड डिटर्जेंट बनाने का कारोबार’ से डिटर्जेंट व्यवसाय, व्यापार और कारोबार के बारे में पूरी जानकारी जरूर मिली होगी, साथ ही… यदि कुछ छूट गया हो या कुछ पूछना चाहते हों तो कृपया comment box में जरूर लिखें. तब तक के लिए-

“शुभकामनाएं आपके कामयाब और सफल व्यापारिक भविष्य के लिए.” 

धन्यवाद!

RELATED ARTICLES

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular